राज्यसभा में शाह का ऐलान, देशभर में लागू होगा NRC, किसी को डरने की जरुरत नहीं

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में देशभर में एनआरसी लागू करने की बात कही है। उन्होने विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि इससे किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। शाह ने कहा है कि एनआरसी के जरिए नागरिकता की पहचान सुनिश्चित की जाएगी और देशभर में लागू किया जाएगा।

0
98
amit shah

नई दिल्ली। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में देशभर में एनआरसी लागू करने की बात कही है। उन्होने विपक्ष के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि इससे किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। शाह ने कहा है कि एनआरसी के जरिए नागरिकता की पहचान सुनिश्चित की जाएगी और देशभर में लागू किया जाएगा।

गृह मंत्री ने कहा कि किसी भी नागरिक का कोई भी धर्म हो एनआरसी लिस्ट में शामिल हो सकते हैं। एनआरसी और नागरिकता संशोधन विधेयक अलग प्रक्रिया है। इसे एक साथ नहीं रखा जा सकता। शाह ने सैयद नासिर हुसैन के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि हिंदू, बुद्ध, सिख, जैन, ईसाई, पारसी शरणार्थियों को नागरिकता दी जाएगी। इसके लिए सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल अलग से है ताकि इन शरणार्थियों को नागरिकता दी जा सके।

एनआरसी से जुड़े एक अन्य सवाल का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा है कि जिन लोगों का नाम एनआरसी लिस्ट में नहीं है वे ट्रिब्यूनल के पास जा सकते हैं। ट्रिब्यूनल तहसील स्तर पर बनाए जाएंगे। साथ ही जिन लोगों के पास याचिका दायर करने के लिए पैसा नहीं है उन्हें असम सरकार की ओर से आर्थिक मदद दी जएगी।

ममता ने किया पलटवार

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर पलटवार करे हुए कहा है कि पश्चिम बंगाल में एनआरसी को लागू नहीं होने दिया जाएगा। कोई भी बंगाल में रहने वाले किसी भी व्यक्ति की नागरिकता नहीं छिन सकता है। हम लोगों को हिन्दू-मुसलमान के आधार पर नहीं बांटते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here