डायबिटीज (diabetes) एक ऐसी बीमारी है जिसे कंट्रोल करना बेहद जरूरी है। डायबिटीज को कंट्रोल नहीं किया जाए तो इस बीमारी के जोखिम बढ़ने का खतरा अधिक रहता है। मधुमेह की बीमारी एक क्रॉनिक डिजीज है, जो खराब खान-पान,बिगड़ती जीवन-शैली के साथ ही हार्मोन्स में असंतुलन, दिल की बीमारी, स्मोकिंग, फिजिकल एक्टिविटी की कमी और मोटापे के कारण होती है। इस बीमारी में ब्लड शुगर लेवल घटता-बढ़ता रहता है। ब्लड शुगर के अनियंत्रित होने से हार्ट अटैक, मल्टीपल ऑर्गन फेलियर और ब्रेन स्ट्रोक जैसी जानलेवा बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। सर्दी में डायबिटीज के मरीजों की इम्युनिटी कमजोर होने लगती है तो ये परेशानी और ज्यादा बढ़ने लगती है।

सर्दी में डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए ड्राईफ्रूट का सेवन बेहद असरदार साबित होता है। ड्राईफ्रूट्स में भी पिस्ता एक ऐसा ड्राईफ्रूट्स है जो डायबिटीज के मरीजों पर जादुई असर करता है। पोषक तत्वों से भरपूर पिस्ता इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग करता है और बॉडी को बीामरियों से बचाता है। सूखे मेवे पोषक तत्वों का पावरहाउस हैं। हर दिन एक निश्चित मात्रा में नट्स का सेवन करने से बॉडी हेल्दी रहती है।पिस्ता एक सुपर हेल्दी मेवा है जो मधुमेह के अनुकूल है। अगर सही मात्रा में पिस्ता का सेवन किया जाए तो पिस्ता ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर आइए जानते हैं कि पिस्ता का सेवन कैसे डायबिटीज के मरीजों के लिए उपयोगी है।

पिस्ता करता है डायबिटीज को कंट्रोल

किसी भी फूड का ग्लाइसेमिक इंडेक्स ब्लड में शुगर के लेवल को प्रभावित करता है। कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले फ़ूड डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद होते हैं। पिस्ता में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो इसे मधुमेह रोगियों के लिए उपयोगी बनाता है। कई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि पिस्ता खाने से ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद मिल सकती है।

डॉक्टर्स की मने तो पिस्ता के सेवन के बाद एक डायबिटिक को ब्लड शुगर के लेवल में स्पाइक का अनुभव नहीं होगा। खाने से पहले पिस्ता खाने से भोजन करने के बाद बॉडी में डायबिटीज की प्रतिक्रिया को भी नियंत्रित किया जा सकता है।

पिस्ता खाने के फायदे

पिस्ता ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी नियंत्रित कर सकता है। इसका सेवन करने से हार्ट हेल्थ भी ठीक रहती है। एक्सपर्ट के मुताबिक आप अपनी स्थिति के मुताबिक पिस्ता का सीमित सेवन कर सकते हैं।

Also Read – Vinayak Chaturthi 2022: आज हैं साल की आखिरी चतुर्थी, जानिए पूजा की सही विधि और शुभ मुहूर्त