Mobile Cover: बैक कवर लगाने से खराब हो सकता है मोबाइल, फोन में आती है कई समस्या

मोबाइल कवर का यूज फोन की सेफ्टी के लिए करते हैं। लेकिन क्या आपको पता हैं, मोबाइल कवर लगाने से फोन में क्या समस्या आती हैं। अगर आप नही जानते तो हम आपको बताते हैं।

यह बात सुनने में थोड़ी अजीब हैं कि जिस कवर का यूज हम मोबाइल को सैफ रखने के लिए करते हैं। वो हमारे फोन को नुकसान कैसे पहुंचा सकता हैं। क्योंकि बैक कवर मोबाइल को डैमेज होने से बचता हैं, फोन को खराब होने से बचाता है, मोबाइल का कैमरा खराब नहीं हो इसके लिए भी बैक कवर का यूज करते हैं और भी कई बातें है जिसके लिए बैक कवर का यूज करते हैं। लेकिन अब सवाल ये उठता है कि बैक कवर लगाने से क्या मोबाइल खराब होता है? क्या बैक कवर लगाने से मोबाइल को नुकसान होता हैं?  तो आपको आपके प्रश्नों का जवाब देते हैं और बताते हैं कि बैक कवर लगाने से फोन में क्या समस्या आती हैं।

फोन का गरम होना

स्मार्टफोन कभी बहुत ज्यादा गर्म हो जाते है। जैसे चार्जिंग के समय, मोबाइल का ज्यादा उपयोग करने के दौरान ओर भी कई करण है, जिसकी वजह से फोन गर्म हो जाता है और हीट जनरेट करता है। लेकिन बैक कवर होने की वजह से मोबाइल फोन की गर्मी आसानी से बहार नहीं निकल पाती क्योंकि मोबाइल का बैक कवर हार्ड प्लास्टिक या रबर के होते हैं। जिसकी वजह से मोबाइल के हीट अर्थात गर्मी बाहर नहीं निकल पाती है और जिसकी वजह से मोबाइल फोन की परफॉर्मेंस स्लो हो जाती हैं।

हीट स्क्रीन से निकलती हैं

बैक कवर रबर या फिर प्लास्टिक के होते हैं, जिसकी वजह से गर्मी आसानी से नहीं निकल पाती। मोबाइल की गर्मी जब आसानी से बाहर नही निकलती तो दूसरी तरफ से मतलब स्क्रीन से फोन की गर्मी बाहर निकलने लगती हैं। जो फोन के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। स्क्रीन से गर्मी निकालने का असर आपके चेहरे पर भी होता हैं और चेहरा खराब होने लगता है पिंपल्स आ जाते हैं ऐसी कई समस्या आती हैं।

Must Read- WhatsApp लेकर आया शानदार फीचर, अब सिलेक्ट किए गए कांटेक्ट ही देख पाएंगे Profile Photo, ऐसे करेगा काम
परफॉर्मेंस पर होता हैं असर

जब भी मोबाइल चलाते हैं तो फोन जो भी काम करता हैं छोटा या बड़ा तो प्रोसेसर से गर्मी निकलती है। क्योंकि कवर की वजह से गर्मी आसानी से बाहर नहीं निकल पाती और प्रोसेसर परफॉर्मेंस को स्लो कर देता है। ताकि फोन की गर्मी मेंटेन हो पाए।


चार्जिंग स्पीड

स्मार्ट फोन चार्ज करते समय  बैक कवर को निकाल देना चाहिए। क्योंकि बैक कवर लगाकर स्मार्ट फोन चार्ज करने से चार्जिंग स्पीड स्लो होती हैं। जिसकी वजह से फोन की परफॉर्मेंस खराब होने लगती है। गर्मी ठीक से पास नहीं होने की वजह से फोन चार्जिंग स्पीड को स्लो कर देता है और जिससे बैटरी पर ज्यादा प्रेशर नहीं पड़े।

नेटवर्क प्रोब्लम

ये बात भी हैरान करती हैं कि बैक कवर का नेटवर्क से क्या मतलब? लेकिन आपको बता दे बैक कवर की वजह से नेटवर्क प्रोब्लम होती हैं, क्योंकि नेटवर्क से हमारा संबंध कनेक्टिविटी से है। फोन के ज्यादातर सेंसर बैक कवर की वजह से ढक जाते हैं और ऐसे में कनेक्टिविटी और नेटवर्क रिसेप्शन में कई तरह की समस्या आती है। इसीलिए बेहतरीन नेटवर्क के लिए फोन के बैक कवर को निकाल देना चाहिए।

Must Read- अब 5G की गति से चलेगा भारत, नीलामी को मिली मंजूरी, साल 2022 में ही हो सकता है लॉन्च

फोन को होता है नुकसान

बैक कवर की वजह से फोन में कई जगह पर धूल जमा हो जाती है और कई बार चार्जिंग व दूसरे पोर्ट्स भी ब्लॉक हो जाते हैं। तो कई बार फोन में स्क्रैच पड़ जाते हैं। इतना ही नहीं  केस की (बैक कवर की) वजह से हैंडसेट का वजन भी बढ़ जाता है। इसीलिए फोन को बिना बैक कवर के यूज करना अच्छा होता हैं।

फीचर्स पर असर

बैक कवर की वजह से स्मार्टफोन से वायरलेस चार्जिंग, NFC, कंपस, टैप टू पे जैसे बहुत सारे फीचर्स होते है, जो ठीक से वर्क नहीं कर पाते। क्योंकि इस फीचर को काम करने के लिए जिस सेंसर की जरूरत पड़ती है। वह बैक कवर की वजह से ढका होता है। इसीलिए इस तरफ के फिचर काम नहीं करपाते।


जो बाते बताई गई है उसका तो आप ध्यान रखें, लेकिन साथ में बैक कवर नहीं लगाना है तो अपने फोन की डबल केयर करना शूरू कर दे। जिससे फोन भी बेहतर काम करेगा और अगर आप सावधानी रखते है तो आप का फोन भी खराब या डेमेज नहीं होगा।