दिल्लीदेश

इंदौर समेत इन चार शहरों को सरकार ने चुना रोल माॅडल, कोरोना पर लगाएंगे लगाम

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के ज्यादातर मामले शहर में ही देखे गए हैं। इसी बीच केंद्र सरकार ने 4 शहर ऐसे भी चुने हैं जों कि दूसरे शहरों के लिए कोरोना वायरस से लड़ने के लिए रोड मॉडल का काम करेंगे। सरकार ने जिन 4 शहरों को चुना है उसमें जयपुर, इंदौर , चेन्नई और बैंगलुरू है। दरअसल लाॅकडाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह बिगड़ती जा रही है। ऐसे में बिगड़ी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए ये शहर काफी मददगार साबित हो सकते हैं।

बैंगलुरू और चेन्नई में भी कोरोना मृत्यु दर को किया कम 

सरकार ने इन शहरों में ऐसी व्यवस्थाएं करने का विचार किया है जिससे कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर काबू पाया जा सके। गौरतलब है कि बीते दिनों केंद्र सरकार ने कई शहरों के निकायों के साथ बैठक कर कोरोना वायरस पर बात की थी। जिसमें बताया कि इंदौर और जयपुर में कोरोना वायरस के ज्यादा मामले होने पर भी स्थिति को काबू में रखा गया तो वहीं बैंगलुरू और चेन्नई में भी कोरोना मृत्यु दर को बहुत कम पाया गया।

घर घर जाकर सर्वे करवाया इंदौर में 

इस बैठक के दौरान सामने आया कि इंदौर और जयपुर दोनों ही शहरों ने कोरोना पर काबू पाने के लिए घर घर जाकर सर्वे करवाया। यहीं नहीं प्रशासन ने कोरोना पीड़ितों को ट्रेस भी किया। इसके लिए इंदौर ने एक फॉर्मल पेट्रोलिंग टीम भी बनाई। इसके अलावा जयपुर में भी स्थिति को नियंत्रण में रखने के साथ ही जनता को ज्यादा तकलिफों का सामना ना करना पड़े इसलिए सब्जी और अन्य दुकानों को सीमित संख्या दूर दूर रखा। साथ ही प्रशासन यहां खुलने वाली दुकानों पर पूरे दिन सैनिटाइजेशन और अन्य सभी सुरक्षा मानकों पर नजर रखती है।