आज हर नागरिक आधार कार्ड का इस्तेमाल कर रहा हैं. इसकी आवश्यकता बच्चों को स्कूल में दाखिले से लेकर सरकारी योजनाओं के लाभ लेने के लिए पड़ती हैं. आधार कार्ड से जुड़ी बड़ी खबर सामने आ रही है. अगर आपके आधार कार्ड को बने हुए 10 साल पूरे हो चुके हैं, यानि 10 साल से आपने अपना आधार एक बार भी अपडेट नहीं किया हैं, तो आप उसे आप अपडेट करवा सकते हैं. लेकिन ऐसा करना जरूरी नहीं हैं. आप इसे myAadhaar पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन या निकटतम आधार केंद्र पर जाकर ऑफलाइन भी अपडेट कर सकते हैं.

UIDAI ने दी चेतवानी

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण  ने आधार कार्ड धारकों से इस बारे में आग्रह किया हैं कि, जिन निवासियों को 10 साल पहले उनका ‘आधार’ नंबर जारी किया गया था, और जिन्‍होंने उसके बाद से इसे कभी भी अपडेट नहीं किया है, इस तरह के आधार नंबर धारकों को अपने-अपने दस्तावेजो को अपडेट करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. लेकिन ऐसा करना अनिवार्य नहीं हैं.

कैसे करना हैं अपडेट

केंद्र सरकार ने आधार कार्ड के नियमों में संशोधन करते हुए कुछ बदलाव किये है. आधार धारक अपने आधार के नामांकन की तारीख से हर 10 साल पूरे होने पर कम-से-कम एक बार जरूर पहचान और निवास प्रमाण-पत्र वाले दस्तावेजों का अपडेट करा सकते हैं. जिन निवासियों को 10 साल पहले उनका ‘आधार’ नंबर जारी किया गया था, और जिन्‍होंने उसके बाद इन वर्षों में इसे कभी भी अपडेट नहीं किया है. इस तरह के आधार नंबर धारकों को अपने-अपने दस्तावेजो को अपडेट करने के लिए प्रोत्साहित किया है, लेकिन यह जरूरी नहीं हैं.

‘आधार’ नंबर से मिली पहचान

पिछले दशक के दौरान ‘आधार’ नंबर भारत के निवासियों की विशिष्‍ट पहचान के एक प्रमाण-पत्र के रूप में उभरकर सामने आया है. लोगों द्वारा ‘आधार’ नंबर का उपयोग कई सरकारी योजनाओं और सेवाओं का लाभ उठाने के लिए किया जा रहा है. 1100 से अधिक सरकारी योजनाएं और कार्यक्रम सेवाओं के वितरण के लिए आधार आधारित पहचान पत्र का उपयोग किया जा रहा हैं. साथ ही कई वित्तीय संस्थान जैसे बैंक, एनबीएफसी, आदि ग्राहकों को प्रमाणित करने और ऑनबोर्ड करने के लिए आधार का उपयोग होता हैं.

मिलेंगे यह फायदे

‘आधार’ संबंधी दस्तावेजों को निरंतर अपडेट रखने से लोगों को जीवन यापन में आसानी होती है. सरकार से मिलने वाली सेवाओं को बेहतर ढंग से मुहैया कराना संभव हो पाता है. साथ ही सटीक प्रमाणीकरण को संभव करने में मदद मिलती है. यूआईडीएआई ने देश के निवासियों को अपने-अपने दस्तावेजों को अपडेट करने के लिए प्रोत्साहित किया है, और यह राजपत्र अधिसूचना उसी दिशा में एक और अहम कदम है.