सावन का पहला सोमवार आज, दो साल बाद मनमहेश रूप में भक्तों का हाल जानने निकलेंगे बाबा महाकाल

आज सावन का पहला सोमवार है।

आज सावन का पहला सोमवार है। उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालु बाबा महाकाल का अभिषेक और पूजन-अर्चन करने पहुंच रहे हैं। कोरोना काल के बाद सावन-भादौ के हर सोमवार को निकाली जाने वाली बाबा महाकाल की सवारी का आज यानि 18 जुलाई से फिर आगाज हो रहा है। बाबा महकाल पूरे दो साल के बाद मनमहेश स्वरूप में भक्तों का हाल चाल जानने निकलेंगे। खास बात ये है कि इस बार महाकाल की सवारी फिर परंपरागत मार्ग से निकलेगी। कोरोना महामारी के कारण सवारी का मार्ग बीते दो साल से बदल दिया गया था।

Also Read – सोमवार को मजबूत होकर खुले भारतीय बाजार, निफ्टी 100 अंक तो सेंसेक्स 400 ऊपर

मंदिर प्रशासक गणेशकुमार धाकड़ ने बताया कि भगवान श्री महाकालेश्वर की पहली सवारी परंपरागत मार्ग से निकाली जाएगी। पालकी में भगवान मनमहेश स्वरूप में दर्शन देने के लिए नगर भ्रमण पर निकलेंगे। भगवान मनमहेश स्वरूप का पूजन-अर्चन महाकाल मंदिर के सभामंडप में शाम 4 बजे किया जाएगा।
इसके बाद श्री मनमहेश पालकी में विराजित होकर नगर भ्रमण पर निकलेंगे। भगवान श्री महाकालेश्वर की पालकी मंदिर से निकलने के बाद महाकाल रोड, गुदरी चौराहा, बक्षी बाजार और कहारवाड़ी से होकर रामघाट पहुंचेगी। जहां शिप्रा नदी के जल से भगवान का अभिषेक और पूजन-अर्चन किया जाएगा। वापसी में सवारी रामानुजकोट, माढ़े की धर्मशाला, कार्तिक चौक, खाती का मंदिर, सत्यनारायण मंदिर, ढाबारोड, टंकी चौराहा, छत्रीचौक, गोपाल मंदिर, पटनी बाजार, गुदरी बाजार से होती हुई पुन: श्री महाकालेश्वर मंदिर पहुंचेगी।

कब कब निकलेंगे बाबा प्रजा का हाल जानने

श्रावण मास की प्रथम सवारी दर्शन दिनांक :- (26 जुलाई 2021)

द्वितीय सवारी दर्शन दिनांक :- (02 अगस्त 2021)

तृतीय सवारी दर्शन दिनांक :- (09 अगस्त 2021)

चतुर्थ सवारी दर्शन दिनांक :- (16 अगस्त 2021)

भादौ की पहली सवारी दर्शन दिनांक :- (23 अगस्त 2021)

द्वितीय सवारी दर्शन दिनांक :- (30 अगस्त 2020)

शाही एवं अंतिम सवारी दर्शन दिनांक :- (06 सितंबर 2021)