कहते हैं के वक्त बदलते देर नहीं लगती, लेकिन अभी विश्व की घड़ी के अनुसार जो वक्त बदला है, उसमें भारत के सैकड़ों वर्षों का इतिहास समाहित है। दरअसल अवसर और विषय ही कुछ ऐसा है कि जो मौजूदा समय को अतीत की कड़वी और भयानक यादों से जोड़ता है। अवसर है ब्रिटेन (Britain) के नवनियक्त प्रधानमंत्री ऋषि सुनक (Rishi Sunak) की बात करने का जोकि एक भारतीय मूल के व्यक्ति हैं, जिनका रिश्ता और जड़ें भारत के पंजाब में हैं और भारतीयता जिनके व्यवहार से झलकती है। भारतीय मूल के ऋषि सुनक के ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने की खबर के बाद से ही दुनिया भर में रह रहे भारतीयों का सीना गर्व से चौड़ा हो गया और सभी की जुबान पर ऋषि सुनक का नाम है

Also Read-CWC के सभी सदस्यों का दिया इस्तीफा स्वीकारने के बाद अब कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे बनाएंगे नई कमेटी, गुजरात चुनाव पर आज शाम 4 बजे लेंगे बैठक

ब्रिटेन के पीएम का आधिकारिक आवास, एक भारतीय का होगा वहां वास

विशेषतः उल्लेखनीय है कि 10 डाउनिंग स्ट्रीट, यानी ब्रिटेन के पीएम का आधिकारिक आवास, जहां से भारत पर सैकड़ों वर्ष राज किया गया और हमारे देश को गुलाम बना कर रखा गया , आज एक भारतीय ऋषि सुनक उस प्रधानमंत्री आवास में पुरे राजकीय सम्मान के साथ विराजित होंगे। निश्चित ही यह खबर हमारे पुरे देश के साथ ही दुनियाभर में रह रहे भारतीयों के लिए गौरव का विषय है। इस खबर से सदियों पुरानी गुलामी के कलंक को आज पूरी तरह से धो दिया है।

Also Read-अनियंत्रित होकर पलटे टैंकर में हुआ विस्फोट, एक युवती जलकर हुई ख़ाक, जबकि 7 बच्चों सहित 22 लोग हुए घायल

ऋषि सुनक के व्यवहार में झलकती है भारतीयता

उल्लेखनीय है कि ब्रिटैन के प्रधनमंत्री के चुनाव के पहले श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर ऋषि सुनक ने सपत्नीक लंदन के इस्कॉन टेम्पल पर पहुंचकर भगवान कृष्ण के दर्शन किए थे और साथ ही जीत का आशीर्वाद भी प्राप्त किया था। उन्होंने सपत्नीक मंदिर में दर्शन करते हुए अपनी एक तस्वीर भी अपने सोशल मीडिया अकाउंट से शेयर की थी। भारत में होता तो इसे चुनावी पैंतरा करार दिया जा सकता था, परन्तु ब्रिटैन के प्रधानमंत्री के चुनाव में ऋषि सुनक को इस तरह से सनातन धर्म और भारतीयता के रंगना भारी भी पड़ सकता था मगर उन्होंने इसकी जरा परवाह नहीं की और अपनी आस्था और संस्कृति पर पूरी तरह से दृढ़ रहे, जोकि निश्चित ही उनका एक सभी भारतीयों के लिए अनुसरण योग्य व्यवहार है ।