नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली के गाजीपुर फूल मंडी को विस्फोटक से उड़ाने की साजिश जिसने की थी उसका खुलासा हो गया है। बता दें कि, यह शाजिश आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने रची थी। अल कायदा से जुड़े आतंकी संगठन मुजाहिद्दीन गजवात हिंद ने टेलीग्राम पर यह लेटर भेजकर इस आईईडी हमले की जिम्मेदारी ली है। इस लेटर में लिखा है कि, ‘MGH ने धमकी देते हुए कहा की हमारे ही मुजाहिद भाइयों ने 14 जनवरी को धमाके के लिए दिल्ली के गाजीपुर में IED प्लांट किया था, जो किसी टेक्निकल वजहों से वक्त पर नहीं फटा लेकिन अगली बार ऐसा नहीं होगा। हम और तैयारी के साथ धमाका करेंगे, जिसकी गूंज पूरे भारत में सुनाई देगी।’

ALSO READ: डकैती की योजना बनाने वाली हथियारों से लैस गैंग, पुलिस की गिरफ्त में

लेटर में आगे लिखा कि, हमने अपना बेस भारत के राज्य में बना लिया है, हम भारत के खिलाफ ताकत से लड़ेंगे और शरिया का राज्य बनाएंगे। इस लेटर में जम्मू-कश्मीर पुलिस को भी धमकी दी गई है। साथ ही लेटर में लिखा कि, कश्मीर पुलिस ये सोचती है की हमारे कुछ मुजाहिद भाइयों को पकड़ के उन्होंने हमें सरप्राइज किया है तो हम उन्हें कहना चाहते हैं कि अब अपनी जिंदगी बचाओ। कश्मीर पुलिस तुमने अपना काम कर दिया, अब हमारी बारी। हम अल्लाह के लिए किसी से प्यार कर सकते हैं तो उसके लिए नफरत भी।

साथ ही कश्मीर पुलिस के अलावा लेटर में आतंकी संगठन ने पंजाब पुलिस को धमकी की। संगठन ने कहा है कि कुछ हथियार पकड़ कर ज्यादा खुश नहीं होना चाहिए। पंजाब पुलिस को अब तैयारी करनी चाहिए खुद को बचाने के लिए अल्लाह की आर्मी से। हमने उन पुलिस वालों की, कश्मीर पुलिस, आर्मी के और कुछ कश्मीरी लोगों की लिस्ट बनाई है, जिनका नाम हमारे मुजाहिद्दीनों की गिरफ्तारी करने में शामिल है। आपको बता दें कि, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल को यह लेटर मिलने के बाद अधिकारियों ने एनआईए की स्पेशल टीम से मुलाकात की है और जांच शुरू कर दी है।