राहुल गाँधी का केंद्र सरकार पर आरोप, कहा सवाल मत पूछो,आवाज़ मत उठाओ, शांतिपूर्ण प्रदर्शन मत करो, वरना होगी गिरफ़्तारी

-राहुल गाँधी के द्वारा केंद्र सरकार द्वारा देश की युवा जनता को बेरोजगारी के दलदल में घकेलने कर उनके भविष्य से खिलवाड़ करने का आरोप लगाया गया । कहा सवाल मत पूछो,आवाज़ मत उठाओ, शांतिपूर्ण प्रदर्शन मत करो, वरना होगी गिरफ़्तारी। 2018 में परीक्षा पास किए अभ्यर्थी का एक वीडियो भी पोस्ट किया है।

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपने ट्विटर (Twitter) हेंडल से ट्वीट करते हुए केंद्र सरकार पर दोषारोपण का हमला बोला है। राहुल गाँधी के द्वारा केंद्र सरकार द्वारा देश की युवा जनता को बेरोजगारी के दलदल में घकेलने कर उनके भविष्य से खिलवाड़ करने का आरोप लगाया गया । राहुल गाँधी ने कहा कि की केंद्र सरकार के द्वारा युवाओं के सपनों को नष्ट किया जा रहा है और साथ ही करोड़ो परिवारों के विश्वास को भी क्षति पहुंचाई जा रही है ।

Also Read-महाराष्ट्र : विधायकों, सांसदों के बाद अब कार्यकर्ताओं ने भी छोड़ा उध्दव ठाकरे का साथ, अमरावती में 258 हुए शिंदे गुट में शामिल

क्या कहा राहुल गाँधी ने आखिर ट्वीट में

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने अपने ट्वीट के माध्यम से केंद्र सरकार पर निशाना साधा। आज 17 जुलाई, 2022 की पूर्व रात्रि को 12:43 PM बजे अपने ट्विटर हेंडल से ट्वीट करते हुए राहुल गाँधी ने लिखा कि “सवाल मत पूछो, आवाज़ मत उठाओ , शांतिपूर्ण प्रदर्शन मत करो, नए भारत में हक मांगने पर होगी गिरफ़्तारी। उन्होंने इसी ट्वीट में आगे लिखा है कि युवाओं को बेरोज़गार बना कर, करोड़ों परिवारों की आस तोड़ कर, देश का भविष्य उजाड़ रही है ये तानाशाह सरकार।

Also Read-पंजाब : काली माता मंदिर, पटियाला में लगाया गया खालिस्तानी पोस्टर, पूर्व सीएम की सख्त कार्यवाही की माँग

ट्विट में एक वीडियो भी पोस्ट किया

इसके साथ ही, राहुल गांधी ने इस ट्वीट में पैरामिलिट्री फोर्स में नियुक्ति के लिए 2018 में परीक्षा पास किए अभ्यर्थी का एक वीडियो भी पोस्ट किया है जिसमें उक्त अभ्यर्थी न्याय की मांग करते हुए नागपुर से पैदल 46वें दिन आगरा पहुंचे। जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार करके अलग अलग जिलों में छोड़ा गया। राहुल गाँधी ने उत्तर प्रदेश सरकार के इस कृत्य को युवाओं के साथ अन्यायपूर्ण बताया और मोदी सरकार को तानाशाह बताया।