भोपाल। मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh) एक बार फिर नशे के कारोबारियों और असामाजिक तत्वों के खिलाफ सख्त तेवर दिखाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि शासकीय कार्यों में भ्रष्टाचार और नशे का कारोबार करने वालों व असामाजिक गतिविधियों में लिप्त व्यक्तियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

नशे की लत से युवाओं को नहीं होने देंगे बर्बाद

दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज आज सीएम हाउस से आगर-मालवा जिले में संचालित योजनाओं, विकास गतिविधियों और कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा बैठक कर रहे थे जहाँ उन्होंने सख्त तेवर में कहा कि शासकीय कार्यों में भ्रष्टाचार करने वालों को छोड़ा नहीं जाएगा। नशे का कारोबार करने वालों और असामाजिक गतिविधियों में लिप्त व्यक्तियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए कठोर कार्रवाई की जायेगी। हमारे प्रदेश की युवा पीढ़ी को नशे की लत से बर्बाद होने नहीं दिया जाएगा।

Also Read : राज्य सरकार का बड़ा तोहफा, नए साल से इन लोगों को प्रतिमाह मिलेगी 2500 रुपये पेंशन

Covid 19 से सतर्क रहने के दिए निर्देश

इस दौरान सीएम ने कहा कि कोविड-19 से किसी को घबराने की आवश्यकता नहीं है, परन्तु सावधानी जरूरी है।जिसके लिए मास्क लगाएं, बूस्टर डोज लगवाएं और अन्य सर्तकता बनाए रखें। कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करें। उन्होने अधिकारियों को निर्देश दिया कि अस्पतालों में मॉक ड्रिल को पूरी गंभीरता से लिया जाए।