Madhya Pradesh : बांधों से पानी छोड़ने के बाद होशंगाबाद में खतरे के निशान के करीब पहुंची नर्मदा, कलेक्टर एसपी समेत सभी अधिकारी जुटे आपदा प्रबंध में

होशंगाबाद में बरगी ,बारना ओर तवा डेम से पानी छोड़ने के बाद नर्मदा नदी बहुत ही अधिक उफान पर चल रही है। इन सभी बांधों से छोड़े गए पानी की वजह से अचानक से होशंगाबाद में स्थित नर्मदा नदी के जल स्तर में बेतहाशा बढ़ौतरी हुई है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के होशंगाबाद (Hoshangabad) में नर्मदा नदी का सबसे बड़ा घाट सेठानी घाट स्थित है। ताजा जानकारी के अनुसार होशंगाबाद में बरगी ,बारना ओर तवा डेम से पानी छोड़ने के बाद नर्मदा नदी बहुत ही अधिक उफान पर चल रही है। इन सभी बांधों से छोड़े गए पानी की वजह से अचानक से होशंगाबाद में स्थित नर्मदा नदी के जल स्तर में बेतहाशा बढ़ौतरी हुई है।

Also Read-Share Market : इन कंपनियों के शेयर से होगी बड़ी कमाई, निवेशक लगा सकते हैं दांव

कलेक्टर एसपी समेत आपदा प्रबंध से जुड़े अफसर

बरगी ,बारना ओर तवा डेम से पानी छोड़ने के बाद होशंगाबाद में उफान पर पहुंची नर्मदा नदी ने प्रशासन की चिंता अचानक से बढ़ा दी। इसको देखते हुए होशंगाबाद शहर के कलेक्टर एसपी समेत सभी बड़े-छोटे अधिकारी एक्शन में आ गए। इस आपदा प्रबंध से जुड़े होशंगाबाद शहर के यह सभी अफसर सेठानी घाट पर मोर्चा सम्हाल चुके हैं। राहत और बचाव कार्य युद्द स्तर पर शुरू कर दिए गए हैं।

Also Read-देशभर के प्रमुख मंदिरों के लाइव दर्शन

खतरे के निशान के बेहद करीब पहुंची नर्मदा

बरगी ,बारना ओर तवा डेम से पानी छोड़ने के बाद होशंगाबाद में नर्मदा नदी अपने बढ़ते जल स्तर की वजह से खतरे के निशान के बेहद ही करीब पहुँच चुकी है। इस खतरे के देखते हुए प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ राहत और बचाव कार्यों में लग गया है। किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए शहर के अधिकारीयों ने कमर कंस ली है। प्रभावित क्षेत्र की जनता को भी चेतावनी देते हुए सुरक्षित रहने को कहा गया है।