इंदौर विकास प्राधिकरण (IDA) की कल बुधवार 19 अक्टूबर को महत्वपूर्ण बैठक अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा और मुख्यकार्यपालिक अधिकारी आर. पी. सिंह की उपस्थिति में सम्पन्न हुई, साथ ही इस बैठक में मुख्य नगर नियोजक (IDA) के साथ ही निर्माण एजेंसी और कंसल्टेंट भी मौजूद रहे। इस बैठक में योजनाओं के शीघ्र क्रियान्वयन के लिए निर्देश दिए गए, जिसमें भूधारकों की समस्याओं को शीघ्र निपटाने की सुनिश्चितता सम्मिलित है ।

Also Read-Cyclone Alert : ओडिसा में चक्रवात कर सकता है दिवाली पर अँधेरा, Meteorological Department के साइक्लोन संकेतों पर प्रशासन अलर्ट

‘किसी किसान की मर्जी के बगैर कोई ना ले पाए उसकी

इंदौर विकास प्राधिकरण (IDA) की कल बुधवार 19 अक्टूबर को महत्वपूर्ण बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि ‘मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशानुसार किसी भी किसान की सहमति के बगैर उसकी जमीन कोई ना ले पाए ये सुनिश्चित किया जाना चाहिए। इसके साथ ही अधिकारियो को लैंडपुलिंग एक्ट के अंतर्गत होने वाले लाभों की जानकारी शहरी और ग्रामीण स्तर पर देने के लिए कहा गया है।

Also Read-Share Market Prediction : घरेलू शेयर बाजारों में लगातार चौथे दिन तेजी, TVS Motors में निवेश से दौड़ेगी Profit की गाड़ी

ये निर्देश भी दिए गए

इस बैठक में बताया गया कि दीपावली के बाद योजनाओं में विशेषकर शासकिय भूमि वाले भाग में ( जो मास्टर प्लान में चिन्हित है ) के निर्माण हेतु ले-आउट कार्य पूर्ण कार्य शुरू किया जाना है। साथ ही यह भी बताया गया कि हमे यह भी सुनिश्चित करना होगा कि भू धारकों को भी निश्चित समय में भूखंड आवंटित करने के साथ ही, जनजन को आवासीय भू खंड उपलब्ध करा पाएं।