भारत में लगातार मौसम में परिवर्तन देखने को मिल रहा है। वही अब चक्रवात तूफान होने की वजह से तीन राज्यों में मौसम विभाग ने भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी कर दिया है। बारिश के कारण अब तक 4 से अधिक लोगों की मौत हो गई है। तमिलनाडु पुडुचेरी आंध्र प्रदेश में मौसम विभाग का रेड अलर्ट जारी किया गया है।

तेजी से चक्रवात आंध्र प्रदेश और पुडुचेरी की तरफ बढ़ रहा है। तमिलनाडु के तटीय क्षेत्रों में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया। साथ ही इन राज्यों में 60 से 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल रही है।

बारिश की वजह से 4 लोगो की हुई मौत

देश के कुछ हिस्सों में लगातार बारिश हो रही है। वही चक्रवाती तूफान अभी मल्लापुरम के तट को पार कर गया है। इसके गहरे डिप्रेशन में बदलने से अब डिप्रेशन कमजोर हो रहा है। हालांकि मौसम प्रणाली को लेकर शहर भर में अलर्ट घोषित कर दिया गया है। कई पेड़ उखड़ गए हैं। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने कहा कि 12 दिसंबर तक 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी। अब तक 400 से अधिक पेड़ गिर चुके हैं जबकि 4 लोग मारे गए हैं।

12 टीमें की तैनात

चक्रवात मैंडूस का असर 7 राज्य पर देखने को मिलेगा। तमिलनाडु में एसडीआरएफ की 40 टीम के अलावा 16000 पुलिसकर्मी और 15000 होमगार्ड को तैनात किया गया। इसके अलावा डीडीआरएफ के 12 टीम को भी तैयार किया गया है।

डिप्रेशन की संभावना

चक्रवात की ताजा स्थिति पर अपडेट की बात करें तो सुबह-सुबह मल्लापुरम में लैंडफॉल करने के बाद चक्रवात शनिवार दोपहर तक आंतरिक तमिलनाडु पर डिप्रेशन बनाएगा जिसके एक गहरे डिप्रेशन में बदलने की संभावना है मल्लापुरम से 17 किलोमीटर उत्तर पश्चिम और चेन्नई के 50 किलोमीटर पश्चिम में सुबह 5:00 बजे तक डिप्रेशन की संभावना जताई गई है।

भारी बारिश का अलर्ट

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती तूफान मेंडूस के कारण महाराष्ट्र में 48 घंटे में बेमौसम बारिश का पूर्वानुमान जारी कर दिया गया है। 48 घंटे में कोकन मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र के अधिकतर हिस्से में मध्यम से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। आईएमडी ने चक्रवाती तूफान के 24 घंटे बाद महाराष्ट्र में दस्तक की संभावना जताई है।

महाराष्ट्र में तेजी से मौसम बदल रहा है। आसमान में बादल छाए हुए हैं। तेज ठंडी हवा चल रही है। बंगाल की खाड़ी के वास्प और अरब सागर के वास्प में खींचे जाने के कारण महाराष्ट्र में मौसम की स्थिति बदलने का पूर्वानुमान जताया गया है।

राष्ट्रीय राजधानी का मौसम

राजधानी दिल्ली में मौसम की बात करें तो शनिवार को 2:30 बजे तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है जबकि पालन में 13 डिग्री सेल्सियस, लोधी रोड में 11 डिग्री सेल्सियस और पीतमपुरा में 13 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकॉर्ड किया गया है। राजधानी दिल्ली में आसमान में बादल छाए रहेंगे।

हवा में बड़ी नामी 

उत्तर भारत की बात करें तो बिहार झारखंड सहित उत्तर प्रदेश दिल्ली में शीतलहर का पूर्वानुमान जारी किया गया है। हवा में नमी बढ़ गई है। इसके अलावा मौसम विभाग द्वारा इन क्षेत्रों में तेज हवा चलने की भी संभावना जताई गई है।

बर्फबारी हुई तेज 

जम्मू कश्मीर, लेह लद्दाख सहित हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में पर्वतों की चोटियों पर बर्फबारी तेज हो गई है लगातार हो रही बर्फबारी के कारण उत्तर भारत वर्ष के खासे प्रभाव देखने को मिल रहे हैं जबकि मौसम विभाग की मानें तो आने वाले 2 दिनों के बाद पर्वतों पर हो रही बर्फबारी में तीव्रता देखी जाएगी।

इन राज्यों में होगी हल्की बारिश

चक्रवात का असर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के मौसम पर देखने को मिलेगा। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में 11 दिसंबर से कई क्षेत्रों में बूंदाबांदी का पूर्वानुमान जताया गया है। मौसम विभाग ने 13 दिसंबर तक इन दोनों राज्यों में मौसम बदलने के आसार जताया है। इसके साथ ही तेज हवा चलेगी 13 दिसंबर के बाद तापमान में तीव्रता से कमी देखी जाएगी।

देश के मैदानी इलाके में सुबह शाम धुंध बढ़ेंगे और पहाड़ों पर प्रातकाल तापमान में गिरावट देखी जाएगी। कई जगह पर अभी भी कोहरे कायम है। विजिबिलिटी काफी कम हो गई है। कोहरे के कारण ट्रेनों की तीव्रता भी कम हो गई है।

इन राज्यों में मौसम

राजस्थान में आज मौसम साफ रहेगा। हरियाणा में बादल छाए रहेंगे। पंजाब में ठंड लगातार बढ़ रही है। आज बारिश आने की उम्मीद जताई गई है। मध्यप्रदेश में भी आज मौसम साफ रहेगा। बिहार में जबरदस्त ठंड पड़ रही है। कई जिलों में शीतलहर का अलर्ट घोषित किया गया है।

तमिलनाडु के 13 जिले में शुक्रवार से लेकर रविवार तक रेड अलर्ट जारी किया गया है।राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन बल की टीमों को भी तैनाती दी गई है। इसके अलावा 11 दिसंबर को उत्तरी तटीय पांडुचेरी में अत्यधिक बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। रायलसीमा तमिलनाडु में बहुत भारी बारिश होने की संभावना व्यक्त की गई है। तट पर 40 से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी। जिसके बढ़कर 65 किलोमीटर होने की संभावना जताई गई है। इसके अलावा दोपहर तक इसके बाद हवा की रफ्तार 70 किलोमीटर पहुंचने का पूर्वानुमान जारी किया गया है।