स्वास्थ्य : बारिशों में इन फलों का सेवन रहेगा फायदे मंद, बढ़ेगी इम्युनिटी, मौसमी रोग रहेंगे दूर

शारीरिक कमजोरी, सर्दी जुकाम, सरदर्द, बदनदर्द के साथ ही अन्य मौसमी बीमारियों की भी बारिश के मौसम में बहुतायत देखने को मिलती है। बेहतर खानपान और संयमित दिनचर्या के द्वारा इन समस्याओं से काफी कुछ बचा जा सकता है। इन फलों का करे सेवन बढ़ेगी इम्युनिटी और घटेंगे रोग।

बारिशों का मौसम वैसे तो काफी सुहाना और दिल को लुभाने वाला होता है, परन्तु मौसम परिवर्तन से इस दौरान कुछ स्वास्थ्य (Health) संबंधी समस्याएं भी देखी जा सकती हैं। शारीरिक कमजोरी, सर्दी जुकाम, सरदर्द, बदनदर्द (Body Ache) के साथ ही अन्य मौसमी बीमारियों की भी बारिश के मौसम में बहुतायत देखने को मिलती है। बेहतर खानपान और संयमित दिनचर्या के द्वारा इन समस्याओं से काफी कुछ बचा जा सकता है।

Also Read-कर्नाटक : मैंगलोर में मुस्लिम समुदाय के युवक की हत्या के बाद तनाव, क्षेत्र में धारा 144 लागू

इन फलों का करे सेवन, बढ़ेगी इम्युनिटी और घटेंगे रोग

बारिश के मौसम में कुछ विशेष फलों के सेवन से काफी लाभ होता है। रोगप्रतिरोधक क्षमता में बढ़ौतरी होती है और मौसमी बीमारियां दूर ही रहती हैं।

सेब – सेब वैसे तो बारह महीने खाया जा सकने वाला फल है परन्तु बारिशों के मौसम में विशेषकर लाभ सेब के सेवन से मिलता है। इसको खाने से पर्याप्त ऊर्जा तो प्राप्त होती ही है साथ ही इसमें मौजूद डाइट्री फाइबर से पाचन संबंधी परेशानी दूर होती है और पाचनतंत्र मजबूत होता है।

अनार- अनार के सेवन से खून की कमी दूर होती है और साथ ही खून में शुध्दता की भी वृद्धि होती है। इसके नियमित से सेवन से इम्युनिटी मजबूत होती है और स्नायु तंत्र भी दृढ़ता को प्राप्त करता है।

निम्बू- निम्बू में विटामिन c की भरपूर मात्रा होती है। इसके नियमित सेवन से इम्युनिटी सिस्टम सुधरता है और पाचनतंत्र भी मजबूत होता है। इसके साथ ही मौसमी बीमारियों में भी निम्बू के सेवन से लाभ होता है।

पपीता-पपीते के सेवन से मेटाबॉलिज़्म स्तर सुधरता है और पाचनतंत्र मजबूत होता है। पपीते में विटामिन ए और सी की प्रचुर मात्रा उपलब्ध होती है और इसके साथ ही फाइबर भी मौजूद होता है। इसके सेवन से त्वचा संबंधित समस्याओं में भी फायदा मिलता है।

आलूबुखारा –आलू बुखारा एक पहाड़ी फल है जोकि गुणों से भरपूर होता है। इसमें विटामिन सी और मिनरल्स की भरपूर मात्रा होती है साथ ही फाइबर भी मौजूद होता है। इसके सेवन से भी रोगप्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है और पाचनतंत्र मजबूत होता है साथ ही एनर्जी भी बढ़ती है।

Also Read-अपराध : पीएफआई कर रहा है मुस्लिम युवकों का ब्रेनवॉश, मदरसों में केम्प चलाकर दे रहा मार्शल आर्ट और पत्थरबाजी की ट्रेनिंग