Gwalior Sanitation Survey 2021 : गार्बेज फ्री सिटी अवार्ड से करना पड़ेगा संताेष, स्वच्छता में खिसका दाे पायदान नीचे

Gwalior Sanitation Survey 2021 : स्वस्छता सर्वेक्षण 2021 के नतीजे सामने आ चुके है। वहीं इस लिस्ट में ग्वालियर15 वें नंबर पर रहा है। यानी दाे पायदान नीचे खिसक गया है। इससे शहरवासियाें की उम्मीदाें काे बहुत ही बड़ा झटका लगा है।

Gwalior

Gwalior Sanitation Survey 2021 : स्वस्छता सर्वेक्षण 2021 के नतीजे सामने आ चुके है। वहीं इस लिस्ट में ग्वालियर 15 वें नंबर पर रहा है। यानी दाे पायदान नीचे खिसक गया है। इससे शहरवासियाें की उम्मीदाें काे बहुत ही बड़ा झटका लगा है। लेकिन शहर ने गार्बेज फ्री सिटी अवार्ड (Garbage-free city award) को हासिल किया है, वहीं शहर काे इस अवार्ड से ही संताेष करना पड़ेगा। खास बात यह है कि देश में इंदाैर ने एक बार फिर स्वच्छता में पंच मारा है।

वहीं पिछले साल की बात करें तो पिछली बार स्वच्छता सर्वेक्षण में ग्वालियर 13 वें स्थान पर था, जबकि इस बार दाे पायदान और नीचे खिसक कर 15 वें स्थान पर चला गया है। इससे यह साफ़ हो गया है कि स्वच्छता को लेकर किए गए प्रयास नाकाफी थे। गाैरतलब है कि इसके पहले वाटर प्लस का तमगा भी शहर के हाथ से फिसल चुका था, इसके बाद भी निगम ने सबक नहीं लिया।

ये भी पढ़े – Indore News : इंदौर में बनेगा इतिहास, आज से 51 शक्तिपीठों के एक साथ होंगे दर्शन

आपको जानकारी के लिए बता दें स्वच्छता सर्वेक्षण में लगातार पिछड़ने का सबसे बड़ा कारण यह है कि ग्वालियर में साल भर सफाई को लेकर कोई ध्यान नहीं दिया जाता है। वहीं जैसे ही सर्वे शुरू हाेने वाला हाेता है, इसके पहले नगर निगम के अफसर शहर में सफाई कार्य पर फाेकस करना शुरू करते हैं। ऐसे में जब सर्वे होता है तो पूरी हकीकत सामने खुल कर आ जाती है। जबकि इंदाैर एवं अन्य शहराें में साल भर सफाई पर फाेकस किया जाता है, वहीं साथ ही लगातार नवाचार भी किया जाता है।

वहीं स्वच्छता के मामले में जरूर शहर पिछड़ गया है, लेकिन गार्बेज फ्री सिटी का अवार्ड शहर काे प्राप्त हाेगा। कुल मिलाकर अब शहर काे इसी से संताेष करना पड़ेगा।