cyclone मैंडूस एक चक्रवाती तूफान हैं जो रात में लगभग 2 बजे तमिलनाडु के तट से टकरा गया है. ये चक्रवात शुक्रवार करीब रात को महाबलिपुरम के पास पहुंच गया। हालांकि अब यह तूफान कमजोर होकर डीप अवसाद में बदल गया है. आज दोपहर तक यह cyclone पूरी तरह से दुर्बल हो जाएगा। तूफान के कारण कई तटीय जिलों में काफी तेज़ बारिश हो रही है. कटुप्पक्कम में करीब 16 सेमी बारिश हो चुकी है.जिससे ये तूफानी चक्रवात तेजी से तीव्र होता गया है और जहां एक चक्रवाती तूफान, मैंडूस बन गया है. चक्रवाती तूफान अब भयंकर रूप लेता नजर आ रहा है और कई राज्यों पर इसका असर भी दिखाई देने लगा है. इसी के चलते तमिलनाडु के तीन जिलों में प्रशासन ने रेड अलर्ट भी घोषित कर दिया है. अलर्ट पर रहने वाले जिलों में चेंगलपट्टू, विल्लुपुरम और कांचीपुरम शामिल हैं.किसी के हताहत होने की खबर नहीं

 

Also Read – MP Weather: प्रदेश में फिर बदलेगा मौसम का मिजाज, 12 दिसंबर से इन जिलों में होगी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

मौसम का पूर्वानुमान लगाने वाली एजेंसी, स्काईमेट के अनुसार , ये बंगाल की खाड़ी में बन रहे सिस्टम के कारण है, जो तेजी से तीव्र होता गया है और एक चक्रवाती तूफान, मैंडूस बन गया है. बारिश तमिलनाडु के सभी पांच उप मंडलों और आंध्र प्रदेश समेत कई राज्यों को प्रभावित करेगी जिसमें पुडुचेरी और कराईकल, तटीय आंध्र प्रदेश, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल और रायलसीमा शामिल हैं. वहीं, मौसम विभाग के अनुसार , आज इसके कमजोर पड़ने की संभावना है, हालांकि इससे पहले ये तूफान उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ेगा और फिर महाबलीपुरम में लैंड करेगा.

ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन (जीसीसी) ने सभी से cyclone मैंडूस कमजोर होने तक बाहर न जाने से का अनुरोध किया है. 3 घंटे में करीबन 65 पेड़ गिर गए हैं. तूफान के कारण मदुरंथकम, ईसीआर और ओएमआर में कई पेड़ उखड़कर सड़कों पर आ गिरे. जिससे यातायात में भी काफी बाधा हो रही हैं, और जीसीसी सड़कों से पेड़ों को उठाने और यातायात में कोई बाधा उत्पन्न न हो उसके लिए कई प्रयास कर रही हैं. साथ ही निचले तश्तरी के आकार वाले क्षेत्रों में पानी के जमाव को भी दूर करने के लिए मोटर पंपों की सहायता ली जा रही है. इसके अतिरिक्त इस चक्रवात के कारण भारी हवाओं और बारिश से चेन्नई के एग्मोर में एक फ्यूल स्टेशन की छत भी गिर गई. हालांकि इन सभी हादसों के भारी नुक़सान होने के बावजूद , किसी की जान जाने की खबर अभी तक सामने नहीं आई है.

वही एक ओर cyclone मैंडूसके चलते चेन्नई और कुड्डालोर सहित 16 जिलों में सभी स्कूल और कॉलेजों में अवकाश घोषित कर दिया गया हैं. इसके अलावा कॉलेज और यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं. वहीं मौसम विभाग ने 10 दिसंबर को उत्तरी तमिलनाडु और रायलसीमा और दक्षिण आंध्र प्रदेश में भारी मात्रा में बारिश का अलर्ट जारी कर दिया है. 11 दिसंबर को अधिक वर्षा की चेतावनी दे दी गई हैं. तूफान की आशंका के चलते कई इलाकों में पहले ही रेड अलर्ट जारी कर दिया गया था.