Breaking News

वैश्विक आतंकी मसूद अजहर से जुड़ी ये जानकारी पढ़कर चौंक जायेंगे आप | Must Read: Information related to Terrorist Masood Azhar

Posted on: 01 May 2019 19:53 by bharat prajapat
वैश्विक आतंकी मसूद अजहर से जुड़ी ये जानकारी पढ़कर चौंक जायेंगे आप | Must Read: Information related to Terrorist Masood Azhar

भारत को बुधवार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक बड़ी कूटनीतिक कामयाबी मिली है। जिससे भारत की साख अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और अधिक बढ़ गई है। दरअसल संयुक्त राष्ट्र ने जैश-ए- मोहम्मद के सरगना आतंकी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित कर दिया है।

कौन है मसूद अजहर?

अजहर का जन्म बहावलपुर पाकिस्तान में हुआ था। उसके सात अन्य भाई बहन थे। अजहर का पिता अल्लाह बख्श शब्बीर एक सरकारी विद्यालय में प्राध्यापक थे और उसका परिवार डेयरी और पोल्ट्री का कारोबार करती थी। अजहर ने कराची के जामिया उलूम इस्लामिया नामक मद्रासी में पढ़ाई की थी। जहां वह हरकत-उल-अंसार से जुड़ा था।

अजहर को हरकत की उर्दू भाषा की पत्रिका साद-ए-मुजाहिद्दीन और अरबी भाषा की सावत एक कश्मीर का संपादक बना दिया गया था। इसके बाद अजहर हरकत उल संसार का मुख्य सचिव बना और नई भर्तियां करने लगा ।

बता दें कि अजहर पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड माना जाता है और भारत सहित कई देशों में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में शामिल है। संयुक्त राष्ट्र द्वारा  ग्लोबल आतंकी घोषित किए जाने के बाद अब मसूद अजहर की मुश्किलें बढ़ गई है। जिसके चलते अब मसूद अजहर कोई भी हथियार अपने पास नहीं रख पाएगा और मसूद की सारी चल अचल संपत्ति फ्रीज कर दी जाएगी।

पाकिस्तान की शरण में है अजहर –
आतंकी मसूद अजहर फिलहाल पाकिस्तान की शरण में है और वहीं से अपने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को संचालित करता है और आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देता है। जैश-ए-मोहम्मद पाक अधिकृत कश्मीर में एक सक्रिय आतंकवादी संगठन है।

भारत सरका ने 1994 में किया था गिरफ्तार –
आतंकी मसूद अजर को भारत में 1994 में गिरफ्तार कर लिया गया था। लेकिन उसके समर्थकों द्वारा 1999 में इंडियन एयरलाइंस की एक फ्लाइट को हाईजैक कर करीब 814 यात्रियों को अपहरण कर लिया गया था और उन सबको कंधार ले जाया गया था। अजहर के सर्मथकों ने अपहृत यात्रियों के बदले आतंकी मसूद अजहर की रिहाई की मांग की थी। जिसके चलते भारत सरकार ने अजहर को दो अन्य आतंकियों सहित छोड़ दिया था जिसके बाद से ही अजहर पाकिस्तान की शरण में है।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में उठाया था मुद्दा –
बताते कि भारत लगातार संयुक्त राष्ट्र में आतंकी मसूद अजहर पर बैन लगाने और उसे ग्लोबल आतंकी घोषित करने की मांग करता रहा है। लेकिन चीन द्वारा वीटो का उपयोग कर लगातार अडंगा लगा रहा थ। लेकिन अब भारत को कूटनीतिक कामयाबी मिली है और आतंकी मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित कर दिया गया है।

चीन ने बीते दिनो दिए थे संकेत –
बता दे कि चीन ने बीते दिनों एक बयान जारी कर जैश-ए-मोहम्मद को वैश्विक आतंकी घोषित करने के संकेत दिए थे। चीन ने कहा था कि जल्द ही इस मामले का हल निकाल लिया जाएगा। राजदूत लुओ झाओहुई ने कहा कि मसूद अजहर को न्छैब् 1267 सूची में रखने के मामले का हल जल्द ही निकाल लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम भारत की चिंताओं से वाकिफ है और मसूद के बारे में हम जानते है। मुझपर विश्वास रखिए इस मामले का हल जल्द होगा।

चीन ने किया था वीटो पॉवर का इस्तेमाल –
गौरतलब है कि मसूज अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने को लेकर फ्रांस सुरक्षा परिषद् में प्रस्ताव लेकर आया था। इस प्रस्ताव का अमेरिका और ब्रिटेन ने समर्थन किया था लेकिन चीन ने वीटो पॉवर का इस्तेमाल कर इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया था। चीन के इस फैसले को भारत के लिए झटका माना जा रहा था। चीन की इस हरकत के बाद अमेरिका समेत कई देश नाराज हो गए थे। अमेरिका ने कहा था कि अगर चीन इस मामले में गंभीर नहीं है तो हम दूसरा तरीका ढूंढेंगे।

पुलवामा हमले का जिम्मेदार है जैश-
14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली है। इस आतंकी हमले में देश ने अपने 40 ब्त्च्थ् जवानों को खो दिया था। जवानों की इस शाहदत से पूरे देश में गम के साथ गुस्सा भी था।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com