जवाहर चौधरी के उपन्यास गमन की याद दिलाता है गुजरात का दलित हत्याकांड

0
15

जी हां इंदौर के सुप्रसिद्ध व्यंगकार तथा लेखक जवाहर चौधरी ने गमन नामक एक उपन्यास लिखा है जिसमें बताया गया है कि दलितों पर किस तरह से अत्याचार होते हैं इस उपन्यास का नायक कदम कदम पर न केवल सामंती तत्वों के हाथों अपमानित होता है बल्कि उसकी पत्नी और उसकी बेटी के साथ बलात्कार भी किया जाता है।

ऐसा ही एक मामला गुजरात के राजकोट में हुआ है जहां पर कचरा उठाने वाले 35 साल के दलित युवक मुकेश वाणियां की हत्या कर दी गई इसके पहले कचरा बीनने वाले युवक मुकेश और उसकी पत्नी के साथ मारपीट की गई इन दोनों का कसूर सिर्फ इतना था कि यह राबडिया इंडस्ट्री के आसपास से कचरा उठा रहे थे इसी बात को लेकर उनकी कुछ लोगों से कहासुनी हुई और बाद में 5 लोगों में दलित युवक को गेट से बांध दिया और बारी-बारी से उसे पीटा गया इस पूरे मामले में एक फैक्ट्री मालिक का हाथ बताया जाता है।

फैक्ट्री मालिक जय सुख वाडिया ने इस घटना का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में भी जारी किया था गुजरात यह घटना साबित करती है आज भी हमारे देश में दलित कैसा जीवन जी रहे हैं और उनके साथ किस तरह का व्यवहार हो रहा है। सरकार भले ही दलितों के हित में बातें करें लेकिन आज भी दलित इस देश में सुरक्षित नहीं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here