क्या इस बार चल पाएगा इस जादूगर का जादू

0
10
rajasthan

राजस्थान के दो बार मुख्यमंत्री रह चुके ये पूर्वमंत्री अशोक गहलोत के पूर्वजो का पेशा जादूगरी था। गहलोत के पिता स्व. लक्ष्मण सिंह गहलोत भी जादूगर थे। अपने पिता के साथ रहते हुए अशोक गहलोत ने उनसे जादू की कई ट्रिक्स सीख ली थीं और वह अपने पिता को शो के दौरान तो सहयोग करते थे। कई बार वे खुद भी अपनी जादू की कला दिखा देते थे।

Related image
via

बहुत कम लोग इस बात को जानते हैं कि राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत के पूर्वजों का पेशा जादूगरी था। ये हुनर अपने पिताजी से गहलोत ने भी सीखा था।
उन्होंने कुछ समय इस जादूगरी के कार्यक्रम भी पेश किए थे लेकिन नियति को कुछ और मंजूर था जो वो राजनीती में आ गए और राजनीती में नए कीर्तिमानों का जादू रचा।

Related image
via

बताया जाता है जब वे सांसद थे उन्हें प्रधानमंत्री आवास पर बुलाया गया था। राहुल और प्रियंका छोटे थे तब अशोक गहलोत ने इन दोनों को अपने जादू के खेल दिखाए जिससे खुश होकर दोनों उन्हें जादूगर अंकल बुलाने लगे थे। गहलोत का जादू का असर राहुल गांधी पर अभी तक कायम है।

बताया जाता है की वे अपने पिता की तरह जादूगर न बनकर डॉक्टर या बिजनेसमैन बनना चाहते थे, लेकिन सफलता न मिलने पर वे राजनीति में आये और जल्द ही उन्हें सफलता भी मिल गई और 1980 में 29 बरस की उम्र में ही सांसद बन गए थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here