Breaking News

मदर्स डे क्यों मानते है, जानिए कहा से हुई इसकी शुरुआत

Posted on: 12 May 2018 10:12 by Ravindra Singh Rana
मदर्स डे क्यों मानते है, जानिए कहा से हुई इसकी शुरुआत

इंदौर: यह बात सत्य है की विश्व में आपको मां से ज्यादा कोई प्यार नही कर सकता है, मां से ज्यादा कोई प्यारा नही होता है, मां के प्यार की कभी भी किसी से तुलना नही की जा सकती है, हम सदैव मां के कर्जदार होते है, मां का कर्ज कोई नही चूका सकता है, किन्तु उन्हें खुशियों अवश्य दे सकते है, जिसकी वो हक़दार है, हर बच्चे को फर्ज अदा करना चाहिए, वो अपनी मां भावनाओं को समझे और हमेशा खुश रखे।

mothers day

मां को एक सम्मान और अच्छा महसूस करने के लिए ही ‘मदर्स डे’ मनाया जाता है, प्रत्येक वर्ष दुनिया भर में ‘मदर्स डे’ सेलीब्रेट करते है, भारत में 13 मई को ‘मदर्स डे’ जाता है, मदर्स डे अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीके से मनाया जाता है। और आज ये लगभग 46 देशों में मनाया जाता है।

mother...

बताया जाता है कि सबसे पहले मदर्स डे ग्रीस से प्रारम्भ हुआ था। ग्रीस में मांओं को आदर करने की लिए इस दिन को पूजा के तौर मनाया जाता था। बताया जाता है कि स्यबेले ग्रीक भगवान की मां थी, और उन्हें सम्मान देने के लिए मदर्स डे को त्योहार के तौर पर मनाया जाता था।

gift

वहीं वर्जिनिया में एना जार्विस ने सबसे पहले इसकी शुरुआत की थी. वो अपनी मां से प्रेरित थीं। उनकी न तो कभी शादी हुई और न ही उनका कोई बच्चा था. अपनी मां की मृत्यु के बाद उन्होंने अपना प्यार जताने के लिए इस दिन की शुरूआत की.क्रिश्चियन इस दिन को वर्जिन मेरी का दिन मानते हैं. इस दिन वो उन्हें फूल और गिफ्ट्स देकर खुशिया मानते हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com