आईपीएस रूपा को कौन बता रहा है मोदी विरोधी

0
8

सोशल मीडिया की आड़ में कैसे-कैसे खेल किए जा रहे हैं इसका शिकार हुई है कर्नाटक की आईजीपी रूपा दिवाकर जी हां इस आईपीएस को बदनाम करने के लिए सोची-समझी साजिश के तहत कार्य किया जा रहा है सबसे बड़ी बात तो यह है कि आईपीएस रूपा के नाम से एक फर्जी पोस्ट वायरल की गई

जिसमें यह कहा गया कि रूपा द्वारा मोदी सरकार से अवॉर्ड लेने से इंकार कर दिया गया है और उसकी वजह यह बताई गई है कि भोपाल में साध्वी प्रज्ञा की जीत और हेमंत करकरे को लेकर उनके द्वारा दिए गए बयान से रूपा बेहद नाराज है और यही वजह है कि उन्होंने अवॉर्ड लेने से इंकार कर दिया

अब सवाल इस बात का है कि क्या सचमुच यह पोस्ट रूपा की थी लेकिन सोशल मीडिया पर ही अब यह बात वायरल हो रही है कि मोदी सरकार द्वारा किसी भी प्रकार के अवार्ड के लिए रूपा का नामांकन ही नहीं किया गया और जिस अवार्ड की बात की जा रही है उसमें पुलिस के लिए ऐसा कोई अवार्ड सरकार नहीं देती

कुल मिलाकर रूपा के बारे में यह कहा जाता है कि वह कर्नाटक की पहली महिला आईपीएस हैं और वर्तमान में रेलवे में आईजीपी के पद पर भी कार्यरत हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here