Breaking News

आखिर कौन है मोहम्मद मोहसिन, जो मोदी के काफिले की तलाशी लेने पर हुए सस्पेंड | Mohammad Mohsin, who was suspended about taking a search of ‘Modi’s Convoy’

Posted on: 18 Apr 2019 11:25 by Surbhi Bhawsar
आखिर कौन है मोहम्मद मोहसिन, जो मोदी के काफिले की तलाशी लेने पर हुए सस्पेंड | Mohammad Mohsin, who was suspended about taking a search of ‘Modi’s Convoy’

लोकसभा चुनाव के प्रचार का दौर चरम पर है। सभी पार्टियों के नेता रोज कही न कही जनसभा या रोड शो कर रहे है। जनता को लुभाने के लिए तमाम तरह के वादे किये जा रहे है। इस चुनाव प्रचार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपनी पूरी ताकत झोंक रहे हैं। बुधवार को मोदी ने ओडिशा के संबलपुर में चुनावी दौरा किया था। इस दौरान एक अधिकारी को उनके काफिले की तलाशी लेना महंगा पड़ गया।

चुनाव आयोग ने कर्नाटक के एक आईएएस अधिकारी को कथित तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले की तलाशी लेने की कोशिश पर सस्पेंड कर दिया है। इस अधिकारी का नाम मोहम्मद मोहसिन है। उन्हें संबलपुर में जनरल ऑब्जर्वर के तौर पर नियुक्त किया गया था। बताया जा रहा है कि मोहम्मद मोहसिन ने पीएम के काफिले के एक वाहन की तलाशी की कोशिश की थी।

दरअसल, मोदी के ओडिशा दौरे के दौरान आईएस अफसर मोहम्मद मोहसिन संबलपुर में जनरल ऑब्जर्वर के तौर पर नियुक्त थे। इस दौरान उन्होंने मोदी के काफिले के एक वाहन की तलाशी की कोशिश की थी। इस बात को लेकर पीएमओ ने चुनाव आयोग से इसकी शिकायत कर दी।

चुनाव आयोग ने किया सस्पेंड

मोदी के काफिले के तलाशी को लेकर पीएमओ द्वारा की गई शिकायत पर चुनाव आयोग ने एक्शन लिया।आयोग ने निर्देशों के उल्लंघन के आरोप में आईएएस मोहम्मद मोहसिन को सस्पेंड कर दिया। बताया जा रहा है कि चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों से अलग अधिकारी ने कार्रवाई की थी।

उसके बाद चुनाव आयोग को एसपीजी सुरक्षा के बावजूद तलाशी लेने की जानकारी मिली और चुनाव आयोग ने निर्देशों के उल्लंघन के आरोप में आईएएस मोहम्मद मोहसिन को सस्पेंड कर दिया। कहा जा रहा है कि निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों से अलग अधिकारी ने कार्रवाई की थी। जिनके पास एसपीजी सुरक्षा रहती है उन लोगों को ऐसी जांच से छूट प्राप्त होती है।

कौन हैं आईएएस मोहम्मद मोहसिन?

साल 1969 में पटना में जन्में मोहम्मद मोहसिन कर्नाटक सरकार में सचिव हैं। वह कर्नाटक कैडर से आईएएस बने हैं। उन्होंने पटना यूनिवर्सिटी से एम कॉम की पढ़ाई की है और साल 1994 में वह यूपीएससी सिविल सर्विसेज की पढ़ाई करने दिल्ली आए थे।

मोहम्मद मोहसिन पहली बार में सिविल सर्विसेज प्री परीक्षा क्लियर नहीं कर पाए थे। हालांकि उनके नंबर कम रह गए और वो आईएएस नहीं बन सके। उन्होंने फिर इसकी तैयारी की और 1996 बैच से आईएएस अधिकारी बने। उन्होंने उर्दू स्टडीज के साथ अपनी पढ़ाई की थी। उनकी लिंक्डइन प्रोफाइल के अनुसार वो कर्नाटक सरकार के शिक्षा विभाग और अन्य विभागों में अधिकारी रह चुके हैं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com