Breaking News

कश्मीर में आतंकियों से लड़ते वक्त दो गोलियां सीने पर झेलकर शहीद हुए पिता को बेटी ने दी आखिरी विदाई

Posted on: 22 May 2018 18:55 by Lokandra sharma
कश्मीर में आतंकियों से लड़ते वक्त दो गोलियां सीने पर झेलकर शहीद हुए पिता को बेटी ने दी आखिरी विदाई

नई दिल्ली: आतंकियों से लड़ते हुए शहीद को आखिरी विदाई देने वाला उनकी मासूम बेटी का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। इसमें वह दोनों हाथ जोड़कर अपने पिता को रोते हुए श्रद्धांजलि दे रही है। इस पर ट्विटर पर कई लोगों ने मार्मिक ट्वीट किए हैं। एक शख्स ने लिखा- आप दीपक नैनवाल की ही बेटी नहीं, भारत की बेटी हैं। हमें उन पर गर्व है। नायक दीपक नैनवाल जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों के खिलाफ की गई कार्रवाई के दौरान जख्मी हो गए थे। पुणे के कमांड हॉस्पिटल में इलाज के दौरान रविवार को उनका निधन हो गया था।

नैनवाल का हरिद्वार में अंतिम संस्कार

नैनवाल की पार्थिव देह सोमवार को देहरादून लाई गई। जौलीग्रांट एयरपोर्ट से इसे सीधे मिलिट्री अस्पताल के शव गृह ले जाया गया। सैन्य सम्मान के साथ मंगलवार को हर्रावाला स्थित उनके घर से उनकी अंतिम यात्रा शुरू हुई। हरिद्वार में शहीद दीपक नैनवाल का अंतिम संस्कार किया जा रहा है।

बेटे का शव देख बेहोश हुई मां

नैनवाल की पार्थिव देह हर्रावाला पहुंची तो वहां मौजूद हर शख्स की आंखें नम थी। पत्नी और मां का रो-रोकर बुरा हाल था। अंतिम दर्शन के लिए जब नैनवाल की देह घर में रखी गई तो बेटे का चेहरा देखते ही मां बेहोश हो गई।

10 अप्रैल को आतंकियों के साथ मुठभेड़ में जख्मी हुए थे नैनवाल

कुलगाम के खुड़वानी इलाके में 10 अप्रैल को पुलिस और सेना की आतंकियों से मुठभेड़ हुई थी। आतंकियों की ओर से की गई फायरिंग में सेना का एक जवान शहीद हो गया था। तीन नागरिक जख्मी हुए थे। दीपक नैनवाल को दो गोलियां लगी थीं।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com