यह क्या हो रहा है लोकसभा सचिवालय में ?

0
11

(अनिल जैन की फेसबुक वाल से)

कर्नाटक से भाजपा के दो सांसदों बीएस येदियुरप्पा और बी. श्रीरामुलु ने 18 मई को लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था. इन दोनों सहित तीन और लोकसभा सदस्यों के इस्तीफे स्पीकर के पास पहुंचे थे. स्पीकर ने तीनों सांसदों के इस्तीफे तत्काल प्रभाव से मंजूर कर लिए थे. बीएस येदियुरप्पा और बी. श्रीरामुलु के इस्तीफे के मंजूर होने की सुचना 19 मई को लोकसभा सचिवालय के बुलेटिन के जरिये लोकसभा की वेबसाइट पर भी चिपका दी गयी थी. इसी के साथ लोकसभा की वेबसाईट पर भाजपा के कुल लोकसभा सदस्यों की कुल संख्या 271 दिखाई गयी थी.  जिसमें येदियुरप्पा और बी. श्रीरामुलु के नाम नहीं थे. लेकिन महज़ तीन दिनों के बाद ही इन सूचनाओं में आश्चर्य जनक रूप से भारी फेरबदल हो गया.

येदियुरप्पा और श्रीरामुलु के इस्तीफे वाला बुलेटिन लोकसभा की वेबसाईट से गायब हो गया और लोकसभा में भाजपा के सदस्यों की संख्या भी बढ़ कर 274 हो गयी. जिसमें येदियुरप्पा और बी. श्रीरामुलु फिर से शामिल दिखाए गए. इसी संख्या में 25 मई को एक अंक का और इजाफा हो गया तथा यह संख्या 275 हो गयी. 70 वर्षों में ऐसा जादू पहले कभी देखा है?  इस पुरे खेल के पीछे लोकसभा स्पीकर को विवाद में घसीटने की किसी की कोई साजिश तो नहीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here