Breaking News

बुआ- बबुआ हुए साथ- साथ

Posted on: 12 Jan 2019 13:09 by Ravindra Singh Rana
बुआ- बबुआ हुए साथ- साथ

उत्तरप्रदेश के लखनऊ में सपा प्रमुख अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती ने शनिवार को ताज होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए, कांग्रेस- बीजेपी पर जमकर हमलवार हुए। सपा- बसपा ने गठबंधन का भी आज ऐलान कर दिया है। लोकसभा चुनाव के लिए सीटों की भी घोषणा कर दी गई है. BSP 38 और SP 38 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

बसपा सुप्रीमो कांग्रेस-बीजेपी पर हमलावर हुई 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर हमलवार होते हुई बोलीं- मोदी-शाह की नींद उड़ाने वाली प्रेस कांफ्रेंस। वर्ष 1993 में हुए सपा- बसपा के गठबंधन को लेकर मायावती ने कांशीराम-मुलायम ने गठबंधन किया था। चोर, जातिवादी और सांप्रदायिक बीजेपी को हराया था। देशहित को ध्यान में रखकर SP-BSP का गठबंधन है। देशहित को गेस्ट हाउस कांड से ऊपर रखा है।  2019 में नई राजनीतिक क्रांति का संदेश है। बीजेपी के तानाशाही रवैये से जनता परेशान है। बीजेपी ने यूपी में बेईमानी से सरकार बनाई है। जनविरोधी पार्टी को सत्ता में आने से रोकेंगे। केंद्र में ज्यादातर कांग्रेस की सरकार रही, कांग्रेस के शासन में भ्रष्टाचार और गरीबी बढ़ी है।

राफेल घोटाले पर बीजेपी को अपनी सत्ता गंवानी पड़ेगी। बीजेपी-कांग्रेस की कार्यशैली करीब-करीब एक जैसी है। कांग्रेस राज में घोषित इमरजेंसी थी, बीजेपी में अघोषित है। गठबंधन से बीजेपी को सत्ता से दूर भगाएंगे। जानबूझकर खनन मामले में अखिलेश को घसीटा जा रहा है। BSP 38 और SP 38 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। अमेठी-रायबरेली सीट को कांग्रेस के लिए छोड़ा है।

 बीजेपी पर जमकर हमलवार हुए अखिलेश

बीजेपी के राज में हर वर्ग परेशान है। भाजपा ने उत्तर प्रदेश को जाति प्रदेश बना दिया है। प्रदेश में भूखमरी और गरीबी चरम पर है। धर्म की आड़ में बीजेपी नफरत फैला रही है। यूपी में बेकसूर लोगों के एनकाउंटर हो रहे है। बीजेपी के अन्याय के खिलाफ एकजुट हुए। मायावती का सम्मान मेरा सम्मान, मायावती का अपमान मेरा अपमान है।

Read More:-

कल अखिलेश- मायावती की प्रेस कॉन्फ्रेंस, गठबंधन पर ऐलान संभव

CBI अखिलेश यादव से कर सकती है पूछताछ

अखिलेश बोले, गठबंधन रोकने के लिए CBI का इस्तेमाल कर रही भाजपा

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com