Breaking News

मौसम विभाग का दावा- 65 साल बाद हुआ दूसरा सबसे बड़ा प्री मानसून सूखा

Posted on: 02 Jun 2019 18:32 by bharat prajapat
मौसम विभाग का दावा- 65 साल  बाद हुआ दूसरा सबसे बड़ा प्री मानसून सूखा

गर्मी से आमजन बेहाल है साथ ही लू के थपेड़ों से भी जनजीवन प्रभावित है। वहीं दूसरी तरफ सूखे ने भी बड़ी समस्या खड़ी कर दी है। वहीं भारतीय मौसम विभाग के डाटा की मानें तो बीते 65 सालों में यह दूसरी बार है जब प्री मानसून में सूखे की स्थिति निर्मित हुई है।

बता दे कि मार्च से अभी तक सिर्फ 99 मिलीमीटर बारिश हुई है। विभाग के मुताबिक वर्ष 1954 के बाद ये ऐसा दूसरा मौका है जब प्री मानसून में इतनी कम बारिश हुई हो।

डाटा के अनुसार वर्ष1954 में 93 मिलीमीटर बारिश हुई थी इसके बाद 2009 में मार्च, अप्रैल और मई के दौरान मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी। वहीं 2012 में यह आंकड़ा 90.5 मिलीमीटर तक पहुंच गया था। जिसके बाद अब 2019 में 99 मिलीमीटर बारिश रिकाॅर्ड की गई है। मौसम विभाग का अनुमान है कि मानसून 6 जून को केरल में दस्तक दे सकता है।

वर्षा का सबसे कम औसत मध्य महाराष्ट्र के मराठवाड़ा और महाराष्ट्र के विदर्भ इलाके में देखने को मिला है। साथ ही कोंकण-गोवा, गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ इलाके में भी सूखे की स्थिति देखने को मिल रही है। इसके अलावा उत्तर कर्नाटक, तमिलनाडु और पांडुचेरी जैसे इलाकों में भी प्री मानसून बारिश में कमी रही है।

साथ ही पहाड़ी क्षेत्रों जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश उत्तराखंड और पश्चिम उत्तर प्रदेश उत्तर कर्नाटक, तेलंगाना और रायलसीमा में भी कम बारिश आंकी गई है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com