Breaking News

घूंघट वाले बयान पर घिरे जावेद, अब दी यह सफाई

Posted on: 03 May 2019 16:30 by bharat prajapat
घूंघट वाले बयान पर घिरे जावेद, अब दी यह सफाई

शिवसेना द्वारा बुर्के पर बैन लगाये जाने की मांग के बाद काफी बवाल मचा हुआ है। जहां राजनेता इसेे लेकर कई प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं वहीं अब इस जुबानी जंग गीतकार शायर जावेद अख्तर भी कूद पड़े है। दरअसल बीते दिनों जावेद अख्तर ने कहा था कि अगर बुर्के पर बैन लगता है तो राजस्थानी घूंघट पर भी बैन लगना चाहिए। जिसके बाद जावेद अख्तर विवादों में घिर गए थे। लेकिन अब जावेद अख्तर ने इस बयान को लेकर अपना बवाव करते हुए सफाई दी है।

जावेद अख्तर ने ट्विटर के माध्यम से कहा कि मेरा बयान बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है मेरा यह मतलब नहीं था । उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि मैंने कहा था कि ‘श्रीलंका में सुरक्षा के लिहाज से इस पर पाबंदी लगाई गई होगी लेकिन असल में महिलाओं को मजबूत बनाने के लिए यह जरूरी है।‘ उन्होंने लिखा कि चेहरे का ढंकना बंद होना चाहिए वो नकाब हो या फिर राजस्थान की घूंघट प्रथा।

दरअसल गुरुवार को भोपाल पत्रकार वार्ता के दौरान जावेद अख्तर के से जुड़े एक सवाल पर जवाब देते हुए कहा था कि अगर बुर्के पर लगता है तो राजस्थान में भी चल रही घूंघट प्रथा पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए उनके इस बयान के बाद काफी बवाल हुआ था जिसको लेकर आज शुक्रवार को जावेद अख्तर ने सफाई दी है।

गौरतलब है कि बीते दिनों शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में श्रीलंका में इस्टर संडे के दिन हुए आतंकवादी हमलों के बाद वहां की सरकार ने बुर्का पर प्रतिबंध लगा दिया था। जिसका हवाला देते हुए शिवसेना ने भी केंद्र सरकार से बुर्का पर बैन लगाने की मांग की थी। शिवसेना ने इसका जिक्र करते हुए लिखा कि बुर्का पहने हुए लोग राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा हो सकते हैं इसलिए भारत में भी सार्वजनिक स्थानों पर बुर्का पहनने पर पाबंदी लगाई जाए।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com