Breaking News

उत्तराखंड: जनता दरबार में विधवा टीचर ने बताई अपनी समस्या, CM बोले-सस्पेंड करो

Posted on: 29 Jun 2018 05:02 by Surbhi Bhawsar
उत्तराखंड: जनता दरबार में विधवा टीचर ने बताई अपनी समस्या, CM बोले-सस्पेंड करो

उत्तराखंड: सत्ता पाने के बाद कुछ लोगो को इसका नशा इस कदर चढ़ जाता है कि वो किसी की सुनने को तैयार नहीं होते। ऐसा ही नजारा उत्तराखंड के जनता दरबार में देखने को मिला है। दरअसल, जब एक शिक्षिका मुख्यमंत्री के पास अपनी समस्या लेकर पहुंची तो उसे निलंबन का आदेश सूना दिया गया।उत्तराखंड की एक विधवा शिक्षिका मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की जनता दरबार में पहुंची और अपने ट्रान्सफर नहीं करने की अपील की। इस पर त्रिवेंद्र सिंह भड़क गए और उसे सीधा सस्पेंड करने का आदेश दे डाला। रावत को महिला टीचर की शब्दों से आपत्ति थी।

दरअसल, टीचर ने अपील करते हुए कहा कि ”मैं 25 साल से काम कर रही हूं। मेरे पति की मौत हो गई है। मेरे बच्चों को कोई देखने वाला नहीं है. मैं अपने बच्चों को अकेला नहीं छोड़ सकती हूं। मैं नौकरी भी नहीं छोड़ सकती हूं। आपको मेरे साथ न्याय करना पड़ेगा।”

टीचर की इस दलील परत्रिवेंद्र सिंह ने कहा कि जब नौकरी शुरू की थी तो आपने क्या लिख कर दिया था? जिसपर टीचर कहती हैं कि मैंने यह भी लिखकर नहीं दिया था की मैं बनवास भोगूंगी। आपका ही नारा है बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ। ये नहीं की बनवास भेजना है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com