Breaking News

“कविता …कल ,आज और कल ….” | Unprecedented Program of the ‘Vama Sahitya’ forum

Posted on: 05 May 2019 14:03 by Mohit Devkar
“कविता …कल ,आज और कल ….” | Unprecedented Program of the ‘Vama Sahitya’ forum

वामा साहित्य मंच का अभूतपूर्व कार्यक्रम….तीन ऐसे युवा जो हमारे बच्चों की उम्र के थे आज हमारे मंच पर किंतु उनकी कविताएं संवेदनाओं के स्तर पर दिल छू रही थी…उनकी भोली सूरत,मोहक मुस्कान व अर्थपूर्ण कविताएं सभी को तालियां बजाने को मजबूर कर रही थी…


आज के हमारे युवा कवि थे कृतिका सेन,ऐश्वर्य श्रीवास्तव व रोहित शर्मा…लग रहा था इन होनहार बच्चों की कविताएं सुनते रहे व दाद देते रहे….


इतनी गर्मी के बावजूद भी आज तकरीबन पचपन सखियां उपस्थित थी…कुर्सियां कम पड़ रही थी पर उत्साह बढ़ रहा था…
हमेशा नामचीन अतिथियों को बुलाने के बजाय इसबार हमने उन्हें बुलाया जो सृजन तो बहुत अच्छा कर रहे है पर मंच तक नहीं पहुँचे….
कार्यक्रम का सुन्दर संचालन स्मृति आदित्य ने, सुमधुर सरस्वती वंदना निधि जैन व आभार बेला जैन के द्वारा …
कार्यक्रम की कुछ झलकियां ….

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com