उन्नाव केस: भाजपा से आउट हुए आरोपी विधायक सेंगर

सड़क हादसे में पीड़िता की चची और मौसी की मौत हो गई जबकि वह खुद जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रही है। पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार बुधवार को शुक्लागंज गंगाघाट में किया गया।

0
97
kuldeep

उन्नाव: उन्नाव में 18 साल की लड़की के साथ हुए रेप के आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगेर को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया है। गुरुवर को पार्टी ने कुलदीप को निकाल दिया है। इससे पहले कुलदीप सिंह को बीजेपी ने निलंबित किया था लेकिन रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे के बाद पार्टी ने विधायक के खिलाफ ये कार्रवाई की है।

सड़क हादसे में पीड़िता की चची और मौसी की मौत हो गई जबकि वह खुद जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रही है। पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार बुधवार को शुक्लागंज गंगाघाट में किया गया। इस दौरान वहां प्रशासन का पूरा अमला मौजूद रहा। चिता में आग लगते ही पुलिस ने चाचा को ले चलने का दबाव बनाया। इस पर पीड़िता के चाचा बिफर पड़े और पूरी चिता जलने के बाद ही जाने का आग्रह किया।

पीड़िता के चाचा ने कहा, “इस लड़ाई में हम पूरी मजबूती के साथ खड़े हैं। न्याय की लड़ाई में पीछे नहीं हटेंगे। विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत सभी आरोपितों को सजा दिलाकर ही दम लेंगे।”

गौरतलब है कि इस मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले के सभी केस लखनऊ से दिल्ली ट्रांसफर कर दिए है। इसके साथ ही कोर्ट ने सीबीआई को 7 दिन में जांच पूरी करने का आदेश दिया है।

इससे पहले सड़क दुर्घटना की जांच कर रही केंद्रीय जांच ब्यूरो की टीम ने रायबरेली पहुंच कर जांच में पाया कि पीड़िता की कार से टकराने वाला ट्रक 70 से 80 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चल रहा था, वहीं स्विफ्ट डिजायर कार 100 किलोमीटर प्रतिघंटा से ज्यादा की रफ्तार से चल रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here