unnao rape case : सपा नेता के भाई का निकला ट्रक , सुरक्षा गॉर्ड ही दे रहे थे विधायक को जानकारी

जिस ट्रक से उन्नाव रेप केस वाली लड़की और उसके वकील को टक्कर मारी गई है, वो सपा नेता नंदू पाल के भाई देवेंद्र पाल का है।

0
398

लखनऊ। जिस ट्रक से उन्नाव रेप केस वाली लड़की और उसके वकील को टक्कर मारी गई है, वो सपा नेता नंदू पाल के भाई देवेंद्र पाल का है। हादसे के बाद से देवेंद्र का पता नहीं चल रहा है। घर पर ताला डला है। उसके पैतृक गांव मुत्तौर में भी पुलिस भेजी गई है।आज यूपी सरकार ने भी कहा है कि इस मामले में अगर जरूरी लगे, तो सीबीआई जांच होना चाहिए। हम भी इसकी सिफारिश करेंगे। अस्पताल में लड़की की हालत नाजुक बनी हुई है। अखिलेश यादव सहित सपा के कई नेताओं ने खूब शोर मचाया था, लेकिन अब ट्रक वाली बात सामने आने पर सभी खामोश हैं। राज्य सभा में भी कल हंगामा हुआ था। भाजपा इस मामले पर खामोश है। जेल में बंद विधायक कुलदीप सेंगर पर हत्या का मामला दर्ज हो चुका है।

रक्षक बने भक्षक
जेल में बंद पीड़िता के चाचा की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। इस तहरीर में पीड़िता के चाचा ने आरोप लगाया है कि उनके परिवार की सुरक्षा में जो पुलिसकर्मी लगाए गए थे, वे बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से मिले थे। वे पीड़िता से जुड़ी जानकारी कुलदीप के समर्थकों तक पहुंचाते थे। आरोप है कि घटना के दिन भी पुलिसकर्मियों ने विधायक तक यह सूचना पहुंचा दी थी कि उनका परिवार रायबरेली आने वाला है और साजिश के तहत पुलिसकर्मी उनके साथ नहीं आए।

परिवार को हत्या की धमकी
लड़की के चाचा की ओर से दी गई तहरीर में उन्होंने लिखा कि उनके परिवार को जान से मारने की धमकी मिल रही थी। जब उनकी पत्नी ने यह बात बताई तो उन्होंने पीड़िता और अपने पत्नी को सारे दस्तावेज लेकर रायबरेली आने को कहा था। पीड़िता के चाचा ने कहा कि उन्होंने वकील महेंद्र को भी साथ लाने को कहा था। उन्होंने पीड़ितों से कहा था कि सारे कागजात लेकर रायबरेली आ जाओ। वह रायबरेली से कोई वकील कर लेंगे और तुम लोग दिल्ली चली जाना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here