ट्रंप बोले- कश्मीर पर मोदी ने मांगी मदद, भारत ने दावे को नकारा

0
144
donald-trump

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की मुलाकात के दौरान ट्रंप ने दावा किया कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए मदद मांगी थी।

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक ट्रंप ने कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता की पेशकश की है, लेकिन भारत हमेशा से तीसरे पक्ष की मध्यस्थता के खिलाफ रहा है। ऐसे में अमेरिका की मध्यस्थता किसी भी हालत में स्वीकार नहीं होगी।

दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की मुलाकात के दौरान इमरान खान ने कश्मीर का राग अलापा। इस पर अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कश्मीर मसले पर मध्यस्थता करने की पेशकश की। ट्रंप ने दावा किया कि मैं दो सप्ताह पहले भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ था। इस मसले पर बात हुई और उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर मदद मांगी थी। मैंने कहा कि अगर मुझे मध्यस्थता का मौका मिलेगा तो जरूर मदद करूंगा।

भारतीय नेताओं ने दावे को नकारा

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के दावे को भारत के कई नेताओं ने नकार दिया है। कांग्रेस नेता शशि थरूर का कहना है कि ट्रंप को अंदाजा नहीं कि वो क्या बोल रहे हैं। तीसरे पक्ष पर मोदी का बात ट्रंप समझ नहीं पाए।वहीं विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार का कहना है कि हमने अमेरिकी राष्ट्रपति का प्रेस में दिया गया बयान देखा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि वह कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता के लिए तैयार हैं, अगर भारत और पाकिस्तान द्वारा अनुरोध किया जाता है। प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति से ऐसा कोई अनुरोध नहीं किया। उन्होंने कहा कि भारत अपने इस रुख कायम है कि पाकिस्तान से सभी मुद्दों पर सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत हो। पाकिस्तान सबसे पहले सीमा पार आतंकवाद खत्म करे। शिमला समझौता और लाहौर घोषणा पत्र के तहत ही मुद्दों का समाधान होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here