अब बुलेट से आई गोली की आवाज या दिखे ऐसे टायर तो इनपर होगी कार्रवाई

0
47
bullet

भोपाल: बुलेट के साइलेंसर से निकली गोली की आवाज, गाड़ियों के दरवाजे और खिड़कियों पर निर्धारित पारदर्शक क्षमता को कम करने वाली फिल्म, वाहन की हेडलाइट पर तेज रोशनी देने वाले बल्ब या नियम के विरुद्ध लगाई नंबर प्लेट अब ऑटो पार्ट्स विक्रेता और गेराज संचालक को नुकसान पहुंचाएंगी। हाल ही में परिवहन विभाग में इसको लेकर एक आदेश जारी किया है। इस आदेश के तहत नियम के विरुद्ध सामान बेचने वालों को के खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

परिवहन विभाग के मुताबिक़ अब ऑटो पार्ट्स एवं गैराज संचालकों को भी आरटीओ से व्यवसाय प्रमाण पत्र लेना होगा। अभी तक परिवहन विभाग नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर ही कार्रवाई करता था, जिसकी वजह से ये सामान बेचने वाले लोग बच जाते थे लेकिन अब परिवहन विभाग नियम के विरुद्ध सामान बेचने वालों पर भी कार्रवाई करेगा।

परिवहन विभाग ने तय किया है कि वह अब ऐसे लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई करेगा जो वाहनों को मॉडिफाइ करने के नाम पर तेज आवाज के हॉर्न, गोली की आवाज निकालने वाले साइलेंसर या हूटर बेचते या लगाते हैं। अब सभी नए एवं पुराने वाहनों के विक्रेता, मोटरयानों से अनुषंगी सामान के विक्रेता, मोटरयान सर्विस सेंटर, गैराज मालिक, मोटर मैकेनिक, केन्द्रीय मोटरयान नियम 1989 के नियम 33 के तहत आरटीओ कार्यालय से व्यवसाय प्रमाण पत्र लेना होगा।

लगवा लें हाई सिक्यूरिटी नंबर प्लेट

जिल लोगों ने वाहनों में हूटर या हाई सिक्युरिटी नंबर प्लेट की जगह साधारण नंबर प्लेट लगवा रखी है वे सभी 31 जुलाई तक हटवा ले। इसकी जगह वाहन चालक हाई सिक्युरिटी नंबर प्लेट लगवा लें। यदि ऐसा नहीं करने पर परिवहन विभाग एक अगस्त से जुर्माने के साथ ही पंजीयन निलंबन की कार्रवाई भी करेगी।

साइलेंसर और टायर

परिवहन विभाग के नए आदेश के मुताबिक़ अब ऐसे गैराज संचालकों के खिलाफ कार्रवाई होगी जो निर्धारित ध्वनि मानक से अधिक आवाज के हॉर्न या भौंपू, गोली या पटाखे की आवाज निकालने वाले साइलेंसर बेचेंगे। इसके साथ ही निर्धारित टायरों से अधिक चौड़े टायर, पहियों के स्थान पर बड़े एलॉय व्हील्स नहीं बेचे जा सकते हैं।

फिल्म और हैडलाइट

वाहनों के दरवाजों एवं खिड़कियों के शीशों पर निर्धारित क्षमता को कम करने वाली फिल्म को नहीं लगाया जा सकेगा। इसके अलावा वाहनों की हैडलाइट में तेज प्रकाश देने वाले बल्बों तथा वाहनों के ऊपर लगाने के लिए अतिरिक्त अन्य लाइट्स का भी इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे।

हेलमेट

भारतीय मानक ब्यूरो के मानकों के अनुरूप आईएसआई मार्क के हेलमेट ही बेचे जा सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here