अगले 24 घंटों में प्रदेश के इन 10 जिलों होगी मूसलाधार बारिश, गिरेंगे ओले, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट 

Share on:

MP Weather: आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रदेश में हवाओं का रुख पश्चिमी बना हुआ है। इसके अतिरिक्त अलग-अलग जगहों पर दो मौसम प्रणालियां भी एक्टिव हैं। इससे प्रदेश के अधिकांश भागों में आंशिक मेघ बने हुए हैं। साथ ही कहीं-कहीं बारिश भी हो रही है। शुक्रवार सुबह साढ़े आठ बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक ग्वालियर में 1.6, नरसिंहपुर में एक मिलीमीटर बरसात हुई। प्रदेश में सर्वाधिक 43.5 डिग्री सेल्सियस टेंपरेचर दमोह में रिकॉर्ड किया किया गया।

मौसम स्पेशलिस्टों के अनुसार शनिवार दोपहर बाद भोपाल, ग्वालियर, चंबल, जबलपुर, शहडोल संभाग के जिलों में कहीं-कहीं वर्षा होने की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ मौसम स्पेशलिस्ट ने बताया कि वर्तमान में छत्तीसगढ़ और उससे लगे ओडिशा पर हवा के ऊपरी भाग में एक साइक्लोन चक्र बना हुआ है।

Also Read – इन राशि वाले जातकों पर बरसेगी आज शनिदेव की विशेष कृपा, कोर्ट केस में मिलेगी सफलता, विरोधी पक्ष होंगे शांत 

प्री-मानसून हलचल शुरू हो गई है

आपको बता दें कि जून के लास्ट वीक में मानसून प्रदेश में दस्तक में देगा। मध्य प्रदेश में मानसून की एंट्री से पहले ही प्री-मानसून की एक्टिविटीज शुरू हो गई हैं। भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर में भी मानसून के देरी से आने का अनुमान जताया गया है।

इन इलाकों में बारिश

वहीं जिन इलाकों में बीते 24 घंटों के बीच भारी बारिश रिकॉर्ड की गई है। इनमें इंदौर, खजुराहो, मंडला और सिवनी शामिल हैं। इतनी गर्मी के पश्चात इंदौर में शाम के समय बारिश देखने को मिली है। इंदौर, छिंदवाड़ा, उज्जैन, खजुराहो, राजगढ़, मंडला और सिवनी में भी प्री-मानसून बारिश जारी है। मंडला में एक और इंदौर में एक में 0.1 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। खजुराहो में सबसे ज्यादा 6 मिमी बरसात रिकॉर्ड की गई।

इन क्षेत्रों में आज से बदलेगा मौसम

मौसम विभाग ने अपने अनुमान में बताया है कि भोपाल चंबल, ग्वालियर, उज्जैन, रीवा शहडोल और सागर में कहीं-कहीं मौसम बदलने के संकेत जताए गए हैं। 40 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवा चलेगी। कुछ जिलों में गर्मी का प्रभाव बना रहेगा। खजुराहो मलाजखंड भोपाल ग्वालियर जबलपुर आदि शहरों में टेंपरेचर में भी भारी वृद्धि देखने को मिलेगी, जबकि धार बैतूल खंडवा खरगोन नर्मदा पुरम बुरहानपुर सिवनी कटनी छिंदवाड़ा जबलपुर के कुछ हिस्से में हल्की बूंदाबांदी देखी जा सकती हैं।