Breaking News

दिनभर – इंदौर से आई खबर ने सम्पूर्ण देश को किया स्तब्ध

Posted on: 12 Jun 2018 16:31 by Lokandra sharma
दिनभर – इंदौर से आई खबर ने सम्पूर्ण देश को किया स्तब्ध

आज का दिन वैसे तो रोज की तरह सामान्य था. हर कोई अपने निज़ी कामों में लगा हुआ था. मगर दोपहर होते ही  मौसम की और ग़मों की काली घटाएँ इंदौर के आसमान पर एक साथ छाने लगी. ऑफिस के फोन के घंटी बजने लगी ख़बर ऐसी आ रही थी जिस पर यकीन करना मुश्किल था. और यकीन होता भी कैसे भय्यूजी महाराज जैसे व्यक्तित्व की आत्महत्या की खबर सचमुच चौकाने वाले है. Ghamsan.com की पूरी टीम आज सुबह से इस ख़बर को ले कर सतर्क थे और पल-पल की ख़बर हम आप तक पहुंचा रहे थे.

…………………………………………………………………………………………………………..

राष्ट्रीय संत भय्यू महाराज ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है. बताया जा रहा है कि हॉस्पिटल में लाने से पहले ही उनकी मौत हो चुकी थी. बताया जा रहा है कि पारिवारिक कलह की वजह से भय्यूजी महाराज ने खुदकुशी की है। फिलहाल भय्यूजी महाराज को मुंबई हॉस्पिटल से एमवाय अस्पताल ले जाया गया है जहां पर उनका पोस्टमार्टम किया जाएगा।

भय्यू जी मौत पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है

……………………………………………………………………………………………………………….

राष्ट्रसंत भय्यू महाराज ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। इसके बाद Ghamasan.com के पास जो जानकारी मिली है, वह चौकाने वाली है। Exclusive जानकारी Ghamasan.com पर हम आपको दे रहे हैं कि पारिवारिक कलह की वजह से भय्यूजी महाराज ने खुदकुशी की है। फिलहाल भय्यूजी महाराज को मुंबई हॉस्पिटल से एमवाय अस्पताल ले जाया गया है जहां पर उनका पोस्टमार्टम किया जाएगा।

अंतिम संस्कार कब होगा इस पर अभी कोई फैसला नहीं किया गया है। लेकिन आपको बड़ी खबर बता दें कि भय्यूजी महाराज आज करीब 1:00 बजे अपने घर की पहली मंजिल पर जहां उनका कमरा बना हुआ था, वहां वह सोने चले गए और यह कह कर गए कि 2:00 बजे उनकी बेटी आज 2:00 बजे पुणे से फ्लाइट में आने वाली थी, तो वह यह कह कर गए कि जैसे ही बैठी है वैसे मुझे उठा दीजिएगा और उसके बाद उन्होंने खुद को गोली मार ली।

इसके पहले की एक और बड़ी जानकारी आपको दे दे भय्यू जी महाराज कल इंदौर से अपनी बेटी से मिलने के लिए पुणे जा रहे थे। पुणे के लिए निकल गए थे और आधे रास्ते में जहां करीब सेंधवा के आसपास जाकर उनकी अपनी बेटी से बात हुई और उनकी बेटी ने कहा कि वह कल खुद ही इंदौर पहुंच रही है और उनकी बेटी इंदौर पहुंचती उससे पहले ही भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मार ली। जब यह हादसा हुआ तब भय्यूजी महाराज की पत्नी डॉ आयुषी किसी शैक्षणिक संस्थान में किसी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गई थी।

……………………………………………………………………………………………………………….

राष्ट्रीय संत भय्यूजी महाराज ने मंगलवार दोपहर करीब 1:30 बजे खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। बताया जा रहा है कि कुछ पारिवारिक कलह की वजह से उन्होंने खुदकुशी की है।

भय्यूजी ने खुदकुशी करने से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा था “जिसमे उन्होंने लिखा कि “मै दुनिया के तनाव से दुनिया छोड़ रहा हूं। मेरी मौत के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है. साथ ही उन्होंने लिखा कि मेरे परिवार की जिम्मेदारी उठाने के लिए कोई आगे आए।”

हॉस्पिटल पहुंची उनकी पत्नी।

……………………………………………………………………………………………………………….

राष्ट्रीय संत भय्यूजी महाराज की आत्महत्या की खबर से  पूरा संत समाज अचरज में और दुखी है, पर भरोसा नहीं हो रहा। हॉस्पिटल से पुष्टि होने के बाद एक और जहां उनके भक्त दुखी हैं वहीं पारिवारिक सदस्यों के साथ ही संत समाज भी दुखी है। सब को शांति का संदेश देने वाला खुद ही कितना अशांत था, यह आत्महत्या से पता चलता है।

कंप्यूटर बाबा ने कहा कि मुझे  तो यकिन ही नहीं हो रहा कि भय्यू महाराज ऐसा कर सकते हैं। पूरा संत समाज दुखी है। मुझे पता नहीं है कि आखिर ऐसा करने का कारण क्या था? बाबा ने कहा कि जैसे ही मुझे खबर मिली मैं खुद को रोक नहीं पाया। खबर सुनते ही हॉस्पिटल पंहुचा।

अहम भूमिका रही-

कंप्यूटर  बाबा ने कहा कि भय्यू महाराज धार्मिक गुरू होने के साथ ही राजनीति में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहे हैं। सभी पार्टी के राजनेताओं से उनके अच्छे संबंध थे।

………………………………………………………………………………………………………………

भय्यूजी महाराज की खुदकुशी के मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक, भय्यूजी महाराज के परिवार में संपत्ति को लेकर झगड़ा चल रहा था और मंगलवार सुबह इसी बात पर विवाद हुआ, जिसके बाद भय्यूजी महाराज ने अपने कमरे में जाकर खुद को गोली मार ली।

…………………………………………………………………………………………………………….

Ghamasan.com के संपादक आलोक वाणी को भय्यूजी महाराज ने अपने जीवन का आखिरी इंटरव्यू दिया था। इस इंटरव्यू में भय्यू जी महाराज ने राज्यमंत्री का दर्जा दिए जाने के बाद उपजे विवाद समेत कई मुद्दों पर बात की थी।

इस इंटरव्यू के बाद अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने बातों ही बातों में ये बताया था कि कुछ समय से वे बीमार थे और मानसिक रूप से फिट महसूस नहीं कर रहे थे। ऐसे में उनकी मां ने उनसे एक दिन कहा कि “ऐसे निराश होकर जीवन नहीं जिया जाता, तुम लाखों लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत हो। तुम्हें अपने जीवन में वापसी करनी ही होगी।

……………………………………………………………………………………………………………..

आध्यात्मिक संत श्री भय्यू महाराज ने  इंदौर स्थित अपने घर पर आत्महत्या कर ली। राजनीतिक गलियारे में भय्यू महाराज की खुदकुशी को लेकर बयानबाजी शुरू हो गई है। कांग्रेस के मीडिया प्रभारी माणिक अग्रवाल ने एक वीडियो जारी कर भाजपा पर गंभीर आरोप लगाते हुए मामले में cbi से जांच कराने की मांग की है.

अग्रवाल का कहना है कि मुख्यमंत्री और भाजपा द्वारा भय्यू महाराज पर दबाव बनाया जा रहा था. सरकार द्वारा दी गई सुविधा जो भय्यू महाराज ने वापस कर दी थी, उन सारी सुविधाओं को स्वीकार कर हमारे लिए काम करें। इस दबाव के चलते वे तनाव में थे।कांग्रेस नेता के इस बयान से सियासत गरमा गई है। कांग्रेस नेता ने पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है।

पुलिस महानिरीक्षक मकरंद देउस्कर ने कहा कि सुसाइड नोट और पिस्टल जब्त कर लिया है। सभी पहलुओं पर जांच हो रही है। इस मामले में परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ की जाएगी।

bjp1

राज्यमंत्री का मामला
राज्य सरकार ने हाल ही में पांच संतों को राज्यमंत्री का दर्जा दिया था, इनमें भय्यू महाराज भी शामिल थे, लेकीन भय्यू महाराज ने राज्यमंत्री का दर्जा लेने से मना कर दिया।

………………………………………………………………………………………………………………

 

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com