पितृ पक्ष की इस तिथि को जरुर करें यह उपाय, सारी मनोकामनाएं होगी पूरी

0
475
shraddh paksh

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार पितृ पक्ष में हमारे पितृ धरती पर आते है और अपने परिजनों द्वारा किए गए तर्पण के बाद आत्मशांति प्राप्त करते हैं। शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति की मौत जिस तिथि को होती हैं उसी तिथि में उसका श्राद्ध करना चाहिए लेकिन यद आपको तिथि याद नहीं हो तो आप श्राद्ध के आखिरी दिन यानी के अमावस्या के दिन भी कर सकते हैं। पितृ मोक्ष अमावस्या के दिन कुछ छोटे छोटे उपाय भी किये जाए तो दिवंगत पित्रों की आत्माएं प्रसन्न होकर अपनी संतानों के जीवन की सभी समस्याओं को दूर कर देती है।

1- मोक्ष पितृपक्ष अमावस्या के दिन अपने पितरों की शांति के लिए गेहूं के आटे की गोलियां बनाकर मछलियों को खिलाएं। ऐसा करने से पुण्य की प्राप्ति होगी और अपने पूर्वजों की कृपा भी प्राप्त होगी।

2- इस दिन आप किसी मंदिर में जाकर अनाज का दान करें, किसी को झाड़ू दें और ब्राह्मण या गरीब को भोजन कराएं। पितृमोक्ष अमावस्या के दिन अपने पितरों के नाम पर इन चीजों का दान करने से सारे दुख दूर हो जाते हैं।

3- मोक्ष अमावस्या के दिन शनि देव को तेल चढ़ाएं। इसके अलावा काली उड़द, काले तिल, लोहा और काले कपड़े का भी दान करें। ऐसा करने से पित्रों की कृपा से जीवन के सारे कष्ट दूर जायेंगे।

4- अमावस्या के दिन एक नीबू को चार टुकडों में काट लें, अब इसे किसी चैराहे पर जाकर चारों दिशाओं में एक-एक टुकड़ा अपने पित्रों का स्मरण करते हुए फेंक दें, इससे किसी के घर पर लगी किसी की बुरी नजर उतर जाती है।

5- पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाएं और सात बार उसकी परिक्रमा करें। मात्र इस उपाय से राहु, शनि और केतु के दोष दूर होते हैं। पितृमोक्ष अमावस्या के दिन हनुमानजी को भोग लगाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें।

6- शिवलिंग पर जल, दूध और काले तिल चढ़ाएं, अमावस्या के दिन क्रोध और अनैतिक कार्यों से दूर रहें। पितृमोक्ष अमावस्या को पितरों के निमित्त किसी गरीब को दूध का दान करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here