ऑनलाइन में रिटर्न होने वाले सामान का ये होता है हाल

0
16
online

ऑनलाइन शाॅपिंग करने वालों की बात करे तो शायद हर 10 में से 6 लोग यही कहेंगे की उन्हें ऑनलाइन शाॅपिंग ही पसंद है। ऑनलाइन शाॅपिंग ने लोगों को अपनी ओर इस तरह आकर्षित कर लिया है कि लोगों को अब बाजार जा कर सामान खरीदने की जगह ऑनलाइन ही मंगवाना ही पसंद आता है।

ऑनलाइन शाॅपिंग होती भी फायदेमंद है जहां हमारा ऑनलाइन शाॅपिंग में समय बचता है वहीं अच्छे ऑफर के चलते पैसों की भी बचत हो ही जाती है। कई बार ऐसा भी होता है कि ऑनलाइन आने वाला सामान में या तो साइज गलत आ जाती है या फिर कोई और खराबी आ जाती है। जिसे हम रिटर्न कर देते है लेकिन क्या आपने सोचा है कि रिटर्न किए सामान का होता क्या है। आज हम आपको यही बताएगे की ऑनलाइन शाॅपिंग में रिटर्न किए गए सामान कहा जाते है।

ऑनलाइन शाॅपिंग के बाद रिटर्न करने वाले सामान कूड़े में फेेंक दिया जाता है। ऑनलाइन दुकानों के स्टॉक से एक बार माल की सप्लाई हो जाने के बाद उनका यही हाल होता है। लौटाए हुए माल को उनकी मंजिल तक पहुंचाने की विशेषज्ञ कंपनी ऑप्टोरो के मुताबिक इनमें से सिर्फ 20 फीसदी उत्पाद ही असल में खराब होते हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ आर्ट्स लंदन में सेंटर फॉर सस्टेनेबल फैशन की सारा नीधम का कहना है कि खुदरा विक्रेताओं से ग्राहकों तक माल की सप्लाई और उनकी वापसी आर्थिक और पर्यावरण दोनों नजरिये से दोषपूर्ण है।

ऑप्टोरो में मार्केटिंग की सीनियर डायरेक्टर कार्ली लेवेलीन के अनुसार लौटाए गए माल को संभालने वाला सिस्टम नाकारा है। कार्ली बताती हैं कि वापसी में आए माल को स्टोर या गोदाम में रखवा देते हैं। वहां माल कई महीनों तक पड़ा रहता है, क्योंकि उनके पास यह पता करने की तकनीक नहीं होती कि उनका क्या किया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here