कुछ ऐसा रहा साल का आखिरी चंद्रग्रहण, इस समय दिखा पूर्ण ग्रहण , देखें तस्वीरे

0
86

कल मंगलवार की रात को चंद्रग्रहण का असर पृथ्वी पर कई जगहों पर देखने को मिला हैं। भारत के साथ साथ कई देशों में साल का यह आखिरी चंद्रग्रहण देखने को मिला। कुछ अनुभवी ज्योतिषियों के अनुसार इस साल चंद्रग्रहण पर 149 साल के बाद कुछ विशेष योग बने। 12 जुलाई 1870 को भी गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण लगा था तब उस समय चंद्रमा शनि और केतु के साथ धनु राशि में स्थित था, जबकि सूर्य राहु के साथ मिथुन राशि में था। मंगलवार देर रात करीब 1.31 बजे चंद्रग्रहण लगा, जो कि सुबह 4.29 बजे तक रहा और इस बार भी चंद्रमा धनु राशि में स्थित था।

साल के आखिरी चंद्रग्रहण के लगने से पहले ही कोलकाता के एमपी बिड़ला तारामंडल के शोध एवं एकेडमिक के निर्देशक देबीप्रसाद दुआरी ने पीटीआई से ग्रहण को लेकर कुछ बातें कही थी। जिसमें उन्होनें बताया था कि इस आंशिक चंद्रग्रहण का सबसे स्पष्ट रूप सुबह तीन बजे नजर आएगा जब चंद्रमा का ज्यादातर हिस्सा ढक चुका होगा। चंद्रग्रहण के बाद देबीप्रसाद की कही गई बात सही भी निकली।

देबीप्रसाद ने कहा था कि ‘‘आकाशीय गतिविधियों में दिलचस्पी रखने वालों यह अवसर खास रहा, क्योंकि अब 2021 तक ऐसा स्पष्ट रूप से दिखने वाला कोई चंद्रग्रहण नहीं लगेगा।
चंद्रमा पर मंगलवार रात 1.30 से बुधवार सुबह 4.29 बजे तक आंशिक ग्रहण लगा रहा। मंगलवार की रात चंद्रमा का केवल एक ही हिस्सा धरती की छाया से गुजरा, जबकि बुधवार सुबह 3.01 बजे चंद्रमा का 65 प्रतिशत व्यास धरती की छाया के तहत रहा।

दिल्ली में ऐसा दिखा ग्रहण

ओडिशा के भुवनेश्वर में ऐसा ग्रहण

महाराष्ट्र में ऐसा रहा नजारा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here