Breaking News

डॉक्टर के इस बड़े कारनामे से दुनिया पड़ी हैरत में | Doctor Mohit Bhandari First Surgeons of India for Bariatric and Robotic Surgeries…

Posted on: 09 May 2019 18:33 by bharat prajapat
डॉक्टर के इस बड़े कारनामे से दुनिया पड़ी हैरत में | Doctor Mohit Bhandari First Surgeons of India for Bariatric and Robotic Surgeries…

मोटापे को खत्म करने के लिये की जाने वाली बेरियाट्रिक सर्जरी को काफी जटिल एवं जोखिम भरी माना जाता है। क्योंकि इसमें रोगी प्रायः मोटापे के साथ-साथ कई अनेक गंभीर समस्याओं जैसे हाई ब्लड़ प्रेशर, डायबिटीज, थॉयराईड, हृदयरोग, स्लिप एपनिया आदि से पीड़ित रहता है, उस पर मात्र 13 घंटे में 53 अलग-अलग प्रकार के बेरियाट्रिक ऑपरेशंस सम्पन्न करना अविश्विस्नीय माना जाता है, लेकिन इसे संभव बनाया है विश्वभर में बेरियाट्रिक एवं रोबोटिक सर्जन के रुप में अपनी पहचान स्थापित करने वाले भारत के बेरियाट्रिक एवं रोबोटिक सर्जन डॉ. मोहित भंडारी ने।

1 मई 2019 को सुबह 6 बजे से प्रारंभ हुई शल्यक्रियाओं डीके क्रम शाम 7 बजे 53 अलग-अलग प्रकार की बेरियाट्रिक ऑपरेशन्स के बाद समाप्त हुई । इस दौरान ऐसे मरीजों की सर्जरी की गई जिनके वजन 100 से 182 किलो के बीच थे। ये मरीज देश और विदेष के विभिन्न क्षेत्रों से आये थे, जिनमें गुजरात के 22, मध्यप्रदेश के 7, राजस्थान के 9, छत्तीसगढ़ के 4, महाराष्ट्र के 5, उत्तरप्रदेश के 1, पंजाब के 1, हरियाणा के 1, झारखण्ड के 1, बंग्लादेश के 1 और केन्या के 1 मरीज शामिल है। इन सभी मरीजों पर बेन्डेड गेस्ट्रीक बायपास 15, बेन्डेड मिनी गेस्ट्रीक बायपास 14 और बेन्डेड स्लीव गेस्ट्रेक्टॉमी 24 ऑपरेषन्स किये गये।

सभी ऑपरेशन्स का अर्न्तराष्ट्रीय स्तर पर लाईव टेलिकॉस्ट भी किया गया था जिसे विश्वभर के सर्जन्स एवं अन्य व्यक्तियों ने देखा । विश्व के किसी भी देश अथवा बेरियाट्रिक सर्जरी सेन्टर पर एक साथ इतनी शल्यक्रियाएं इतने कम समय में सम्पन्न होने के प्रमाण उपलब्ध नहीं है। डॉ. मोहित भंडारी की इस उपलब्धि को बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में सम्मिलित किया जा चुका है और गिनिज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में सम्मिलित किये जाने हेतु मोहक बेरियाट्रिक एवं रोबोटिक सर्जरी सेन्टर, इन्दौर द्वारा अपना दावा प्रस्तुत कर दिया गया है।

डॉ. मोहित भंडारी मोटापे के लिये बेरियाट्रिक एवं रोबोटिक सर्जरी करने वाले भारत के शुरुआती सर्जन्स में से शुमार है और सबसे कम उम्र में 3500 से अधिक बेरियाट्रिक और 250 से अधिक रोबोटिक ऑपरेषन्स करने वाले सर्जन होने की उपलब्धि उनके नाम दर्ज है। दिसम्बर 2018 तक वे 11000 से अधिक बेरियाट्रिक ऑपरेषन्स सम्पन्न कर चुके है जो एशिया पेसिफिक में सर्वाधिक है और यह सिलसिला निरन्तर जारी है। वर्ष 2012 में डॉ. भंडारी ने 350 किलोग्राम वजन की एक एशियाई महिला की बेरियाट्रिक सर्जरी की थी जो रिकार्ड में दर्ज अपने किस्म की पहली शल्यक्रिया थी । उसी प्रकार 2013 में भारत में सबसे कम उम्र यानि एक 6 वर्ष के बच्चे की बेरियाट्रिक सर्जरी करने का रिकार्ड भी कायम किया है। वर्ष 2015 में 11 घंटे में 25 बेरियाट्रिक सर्जरी करने का रिकार्ड भी लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड्स में दर्ज है। डॉ. मोहित भंडारी, मॉरीषस निवासी 410 किलो वजन के एक मरीज का भी सफल ऑपरेषन मोहक बेरियाट्रिक एवं रोबोटिक सर्जरी सेन्टर, इन्दौर में कर चुके है। डॉ. भंडारी को जर्मनी, बेल्जियम, चीन एवं ऑस्ट्रेलिया आदि देषों में भी बेरियाट्रिक सर्जरी करने के लिये आमंत्रित करते हुए उन्हैं ऑपरेषन करने की अनुमति प्रदान की गई थी और वे इन सभी देषों में बेरियाट्रिक सर्जरी के ऑपरेषन्स कर चुके है जिनका लाईव टेलिकॉस्ट भी किया गया था।

13 घंटे में 53 ऑपरेषन्स किये जाने की वजह और सफलता के बारे में डॉ. मोहित भंडारी का कहना है कि ‘‘मेरे द्वारा कोई रिकार्ड कायम करने के उदे्ष्य से जल्दबाजी में या बिना समुचित तैयारी के आज तक ना ही कोई ऑपरेषन किया गया है और ना ही कभी किया जाएगा। 1 मई को ऑपरेट हुए प्रत्येक मरीज का ऑपरेषन के पूर्व सभी आवष्यक जॉंचों एवं मेडिकल फिटनेस के लिये परीक्षण किया गया तथा ऑपरेषन के दौरान भी मरीजों के हित को सर्वापरि रखते हुए सम्पूर्ण तकनीकों कौषल एवं दक्षता के साथ सभी ऑपरेषन सम्पन्न किये गये एवं अब सभी मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज होकर अपने घर जा चुके है। डॉ. मोहित भंडारी का यह भी कहना है कि इस उपलब्धि को हासिल करने के पहले उनके सेन्टर पर उपलब्ध अत्याधुनिक सुविधाएं एवं योग्य, अनुभवी एवं समर्पित लोगों का टीम वर्क भी है।‘‘

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com