इस किले में गायब हो गई थी पूरी बारात, रहस्मयी है किस्सा

0
29
kila

प्राचीन किले हमेशा ही रहस्य और जिज्ञासा से भरे रहते हैं। पुराने किलो की रहस्य बातें एक दम चौका देने वाली होती हैं। यूपी के झांसी से करीब 70 किलोमीटर दूर गढ़कुंडार में भी एक ऐसा ही किला है, जो बेहद रहस्मयी हैं। उसके बारे में पूरी तरह से किसी को कोई खबर नहीं है। यह किला 11वीं सदी में बना पांच मंजिल का किला है, जिसमें तीन मंजिल तो ऊपर हैं, जबकि दो मंजिल जमीन के नीचे हैं।

बताते हैं कि इसमें इतना खजाना है कि भारत अमीर हो जाए। एक बार यहां घूमने आई बरात के सभी लोग गायब हो गए। गायब हुए लोगों का आज तक कोई पता नहीं चल सका। इसके बाद नीचे जाने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया गया। हालांकि यह किला कब बना और किसने बनवाया, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है, लेकिन बताया जाता है कि यह किला 1500 से 2000 साल पुराना है। यहां चंदेलों, बुंदेलों और खंगार जैसे कई शासकों का शासन रहा।

आस-पास के लोग बताते है कि काफी समय पहले घूमने आई एक बारात के लोग घूमते-घूमते बेसमेंट में चले गए थे, उसके बाद वापस कभी नहीं आए। बारात में आए 60-70 लोगों का आज तक कोई पता नहीं चला है। इस घटना के बाद किले के नीचे जाने वाले सभी दरवाजों को बंद कर दिया। किला इस तरह बनाया गया कि यह चार-पांच किलोमीटर दूर से तो दिखता है, लेकिन नजदीक आते-आते यह दिखना बंद हो जाता है।

जिस रास्ते से किला दूर से दिखता है, अगर उसी रास्ते से आप आएंगे तो रास्ता किले की बजाय कहीं और ही चला जाता है, जबकि किले के लिए दूसरा रास्ता है। ये किला भूल-भुलैय्या की तरह है। अगर जानकारी न हो तो इसमें अधिक अंदर जाने पर कोई भी दिशा भूल सकता है। दिन में भी अंधेरा रहने के कारण दिन में भी ये किला डरावना लगता है।

किले में है खजाने का रहस्य –
खजाने को तलाशने के चक्कर में कईयों की जानें भी गई हैं। इतिहास के जानकार बताते हैं कि यहां के राजाओं के पास सोने-हीरे, जवाहरातों की कोई कमी नहीं रही। यहां के खजाने को ढूंढने की कोशिश कई लोगों ने की, लेकिन वो नाकाम रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here