Breaking News

इसलिए सरकार से सपाक्स नाराज, दी आंदोलन की चेतावनी

Posted on: 03 Jan 2019 18:42 by Amit Shukla
इसलिए सरकार से सपाक्स नाराज, दी आंदोलन की चेतावनी

सपाक्स पार्टी ने सरकार को चेतावनी दी है कि 2 अप्रैल 2018 की हिंसा और प्रदर्शन में दर्ज मुकदमे अगर वापस लेने की कार्रवाई की गई तो पार्टी  मध्यप्रदेश में बड़ा आंदोलन खड़ा करेगी , जिसकी सारी जवाबदारी कांग्रेस पार्टी की सरकार की होगी और 2019 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को इसका खामियाजा उठाना पड़ेगा। इस आशय का मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन आज पार्टी द्वारा प्रदेश की राजधानी भोपाल, जिला मुख्यालयों और तहसील मुख्यालयों पर  सौंपा गया। बता दे बसपा सुप्रीमो मायावती की चेतावनी के बाद कमलनाथ सरकार ने अप्रैल 2018 में भारत बंद के दौरान एससी-एसटी समुदाय के लोगों पर दर्ज किए गए केस वापस लेने का फैसला किया है जिसको लेकर सपाक्स समाज संस्था (सामान्य, पिछड़ा, अल्पसंख्यक कल्याण समाज संस्था) ने आपत्ति जताई है।

मायावती ने सोमवार को राजस्थान और मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार से भारत बंद के दौरान एससी-एसटी समुदाय के लोगों पर दर्ज किए गए मुकदमों को वापस लेने की मांग की थी। उन्होंने ऐसा न होने पर मप्र और राजस्थान में कांग्रेस सरकारों से समर्थन पर दोबारा विचार करने की चेतावनी भी दी थी। सरकार गिराने की धमकी से कांग्रेस बैकफूट पर आ गई और मंगलवार को कानून मंत्री पीसी शर्मा ने बयान जारी कर कहा कि 2 अप्रैल 2018 को भारत बंद और दलित हिंसा के बाद लगाए गए केस भी वापस लिए जाएंगें। उन्होंने कहा कि भारत बंद की तरह पिछले 15 सालों में भाजपा सरकार की ओर से कार्यकर्ताओं पर राजनीतिक मंशा के तहत लगाए गए सभी केस वापस लिए जाएंगे। हालांकि, तीन दिन पहले ही शर्मा ने कहा था कि राज्य में भाजपा सरकार के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर दर्ज हुए राजनीतिक मुकदमे वापस लिए जाएंगे।

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com