अगले 24 घंटे में 19 जिलों में होगी झमाझम बारिश, मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दी चेतावनी

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे को देखते हुए अलर्ट जारी किया है और 19 जिलों में झमाझम बारिश की चेतावनी भी जारी की है। इस दौरान 8 जिलों में कई जगहों पर बौछारें पड़ने की संभावना भी जताई है।

प्रदेश के मौसम बहुत जल्दी ही बहुत बड़ा परिवर्तन दिखने वाला है, इसको देखते भी मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है। पिछले कुछ समय से लगातार बारिश होने की वजह से आम जनजीवन काफी ज्यादा प्रभावित हुआ, जिससे कि कहीं जगहों पर लोगों को पलायन भी करना पड़ा। मौसम विभाग ने पूर्व में ही सूचित करते हुए 8 सितंबर से भारी बारिश की चेतावनी जारी की थी व कुछ जिलों में अलर्ट जारी करते हुए उन्हें सावधानी बरतने के भी निर्देश दिए थे। मौसम विभाग के अलर्ट ने लोगों की एक बार फिर से चिंता बढ़ा दी है। भारी बारिश का अलर्ट जारी करते हुए मौसम विभाग में सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान आगामी 24 घंटे में 19 जिलों में गरज चमक के साथ बारिश की संभावना बताई है। वहीं कई स्थानों पर गरज चमक के साथ वज्रपात की भी संभावना जाहिर की है।

मौसम पूर्वानुमान

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार आगामी 24 घंटे में जबलपुर, शहडोल संभागों के कुछ जिलों में व रीवा, भोपाल, उज्जैन, इंदौर संभाग के कई जगह पर एवं ग्वालियर, चंबल संभागों के जिलों में कहीं-कहीं जगह पर बौछारें पड़ने की संभावना है। वही नर्मदापुरम संभाग के जिलों में और अनूपपुर, नरसिंहपुर, जबलपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, सिंगरौली, सीधी, मंडला, बालाघाट, सागर, रायसेन, विदिशा, खंडवा, झाबुआ, दमोह, देवास, गुना, अशोकनगर जिलों में भारी बारिश के साथ बिजली गिरने की भी चिंता जताई है एवं इन स्थानों पर येलो अलर्ट जारी किया है।

बीते 24 घंटे की स्थिति

बीते 24 घंटे के अनुसार कर बात की जाए तो जबलपुर संभागों के जिलों में अधिकांश स्थानों पर रीवा, नर्मदापुरम, शहडोल, सागर एवं भोपाल संभाग के कई जगहों पर उज्जैन इंदौर सहित कई स्थानों पर बारिश दर्ज की गई है। इस दौरान नर्मदापुरम, दमोह, नरसिंहपुर में भी बारिश दर्ज हुई है।

Must Read- Film Chup: चुप का टीजर आउट, सनी देओल और सलमान की फिल्म में स्पेंस-थ्रिल का दिखेगा जबरदस्त मसाला

इन जिलों को है अच्छी बारिश की उम्मीद

मध्यप्रदेश के ऐसे कई जगह है जहां पर कई स्थानों पर तो झमाझम बारिश हुई है तो कई जगह पर बाढ़ की भी स्थिति निर्मित हो गई है लेकिन कई जगह ऐसे भी है जहां पर अच्छी बारिश का अभी भी लोगों को बेसब्री से इंतजार है क्योंकि उन जगहों पर मानसून नाराज होकर बैठा हुआ है प्रदेश के ऐसे कुछ जिले हैं जिसमें रीवा, सिंगरौली, झाबुआ, दतिया, निवाड़ी, अलीराजपुर, टीकमगढ़, सतना, सीधी, डिंडोरी, कटनी जहां पर अच्छी बारिश का अभी भी बेसब्री से इंतजार है, लेकिन यहां पर मानसून नाराज रहा जिससे झमाझम बारिश नहीं हो पाई। अगर इस वर्ष अच्छी बारिश नहीं हुई तो अगले साल सूखे की स्थिति निर्मित हो सकती हैं।

बंगाल की खाड़ी और अरब सागर से मिल रही नमी

मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के मौसम का बदलाव कुछ समय से लगातार जारी रहेगा। बंगाल की खाड़ी में 8 सितंबर को कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है और ऐसा होने की वजह से मानसून ट्रफ लाइन भी सामान्य ही रहेगी। लेकिन इस दौरान दूसरे व तीसरे सप्ताह तक दक्षिण व उत्तरी हवा के टकराने से हल्की से मध्यम बारिश का दौर भी जारी रहेगा और हवा का रुख भी दक्षिणी हो जाएगा। मौसम विभाग के मुताबिक सितंबर के दूसरे सप्ताह में इंदौर सहित प्रदेश भर में वर्षा की गतिविधियों में काफी तेजी देखने को मिल सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक देश के पूर्वी व उत्तर पूर्वी राज्यो में इस वर्ष बारिश कम हुई है, जिससे सूखे की स्थिति निर्मित हो सकती है। सितंबर महीना बारिश का आखरी महीना है। अगर सितंबर में अच्छी बारिश हो जाए तो अगले साल सूखे की समस्या नही आएगी। इस वर्ष कई जगहों पर मानसून में अच्छी बारिश नहीं हो पाई है, जून व जुलाई माह में भी कम वर्षा दर्ज की गई।