नारियल तेल का उपयोग संभोग को बनाता है आसान | Use of Coconut Oil makes InterCourse Easy

0
1062
coconut oil use for sex

भारत में सदियों से नारियल का तेल नैचरल लुब्रिकेंट की तरह सहवास करने में उपयोग होता आ रहा है और यह तब से इस्तेमाल हो रहा है, जब कंडोम इजाद भी नहीं हुए थे। क्या नारियल का तेल आर्टिफिशल लुब्रिकेंट्स से बेहतर ऑप्शन है? इससे कॉन्डम इस्तेमाल करने में कोई परेशानी तो नहीं होगी? इस तरह के प्रश्न कई बार सभी के मन में उठते है।

Read More : ये हैं पुरुष के महिला को मुख मैथुन करने के सही तरीके

आप नारियल का तेल(coconutoil) बिना किसी शंका के इस्तेमाल कर सकते हैं। यह हर मायने में आर्टिफिशल लुब्रिकेंट से बेहतर ऑप्शन है। नारियल तेल की लुब्रिकेशन की क्षमता को इस बात से भी समझा जा सकता कि इसका लुब्रिकेशन तकरीबन वैसा ही होता है, जैसा महिला की योनि का नैचरल एवं चिकना लुब्रिकेशन होता है। जहां तक बात है कॉन्डम के इस्तेमाल की, तो इससे कॉन्डम के इस्तेमाल में कोई दिक्कत नहीं आती। पेट्रोलियम जेली से भले ही कंडोम(condom) को कोई नुकसान पहुंचे, लेकिन नारियल का तेल पूरी तरह से सेफ है।

यदि नारियल का तेल एवं कंडोम दोनों लगाकर सम्भोग करना है तो पहले कंडोम पहन ले उसके बाद नारियल के तेल को स्त्री की योनि में डाल दे, फिर धीरे धीरे मर्दन करे। यदि कंडोम नहीं लगा रहे हो तो नारियल का तेल लेकर लिंग के आगे के भाग में लगा ले एवं फिर लिंग को योनि में प्रवेश कराये। इससे लिंग का प्रवेश सुगम तरीके से होता है।

Read More :सेक्स के समय करें ये गंदी बातें, मिलेगा भरपूर रोमांस

भारत में मुखमैथुन कामन नहीं है जिससे स्त्री की योनि मैथुन क्रिया करने से पहले गीली नहीं हो पाती है, इससे बचने के लिए लिंग पर नारियल तेल लगाकर योनि में लिंग प्रवेश करने से सम्भोग आसान एवं सुगम हो जाता है। बिना नारियल तेल या चिकनाई के सम्भोग करने से लिंग एवं योनि के बीच में ड्राईनेस की वजह से रगड़ लगती है जिससे दोनों को कष्ट होता है। यदि नारियल तेल भी उपलब्ध ना हो तो पुरुष अपना थूक भी लिंग पर लगाकर मैथुन कर सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here