भगोड़े मेहुल को लेकर SC ने कही ये बात, बढ़ी मुश्किलें

0
74
mehul choksi

मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक को करोड़ों रूपए का चूना लगाने वाले भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी अब घिरते जा रहे हैं। भगोड़े मेहुल को लेकर मुंबई हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ केंद्र सरकार और ईडी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए हैं। इससे पहले मुंबई हाई कोर्ट ने भगोड़े मेहुल से मेडिकल रिपोर्ट मांगी गई थी कि वह एंटीगुआ से भारत तक सफर कर सकता है कि नहीं।

इस फैसले को चुनौती देते हुए ईडी व केंद्र सरकार की तरफ साॅलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि इस आदेश से मेहुल चौकसी की प्रत्यर्पण प्रक्रिया पर गलत असर पड़ेगा। साॅलिसिटर जनरल ने शीर्ष अदालत से अनुरोध कि वह इस मामले की सुनवाई करें। इस पर सीजीआई ने कहा कि वह इस मामले पर शाम तक आॅर्डर पास करेंगे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एंटीगुआ सरकार ने भगोड़े मेहुल चौकसी की नागरिकता रद्द करने का फैसला किया था और भारत को सौंपने की बात कही थी। यह बयान एंटीगुआ के प्रधानमंत्री की तरफ से आया था। गौरतलब है कि मेहुल चौकसी फिलहाल एंटीगुआ में रह रहा है।

देश की सार्वजनिक बैंकों को हजारों करोड़ रुपए की चपत लगाकर भागे हीरा कारोबारियों ने इंडिया आने से इनकार दिया है। पिछले दिनों मेहुल चौकसी ने एक ट्वीट कर इंडिया आने पर असमर्थता जताई थी। अब पीएनबी को 13 हजार करोड़ रुपए की चपत लगाने वाले हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने ट्वीट कर कहा कि मैंने कुछ गलत नहीं किया है। पीएनबी घोटाला एक सिविल ट्रांजेक्शन था, इसे उस मामले से अधिक तूल दिया जा रहा है। सुरक्षा कारणों के चलते देश वापस नहीं लौट सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here