Breaking News

SC: एक बार फिर टली अयोध्या मामले की सुनवाई, 18 जुलाई तक मध्यस्थता पैनल को देनी होगी रिपोर्ट

Posted on: 11 Jul 2019 07:40 by Mohit Devkar
SC: एक बार फिर टली अयोध्या मामले की सुनवाई, 18 जुलाई तक मध्यस्थता पैनल को देनी होगी रिपोर्ट

आज यानी गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में तारीख जल्द लगाने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई हुई. यह आवेदन मामले के एक हिंदू पक्षकार गोपाल सिंह विशारद की ओर से दिया गया है. याचिकाकर्ताओं ने मांग की थी कि इस मसले पर अदालत ने मध्यस्थता का जो रास्ता निकाला था, वह काम नहीं कर रहा है. जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता पैनल से रिपोर्ट मांगी है. अब 18 जुलाई तक रिपोर्ट सामने आएगी और फिर इस बात पर फैसला होगा कि इस मामले में रोजाना सुनवाई होगी या नहीं. अगली सुनवाई 25 जुलाई को होगी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, विशारद की तरफ से मंगलवार को चीफ जस्टिस के समक्ष इस मामले की बात करते हुए सुनवाई की तारीख जल्द लगाने की मांग की थी. उनका कहना है कि विवाद निपटाने में मध्यस्थता प्रक्रिया से खास प्रगति नहीं है, लिहाजा इसे मेरिट के आधार पर सुना जाए और निपटारे के लिए तारीख लगाई जाए. इस पर चीफ जस्टिस ने उन्हें आवेदन दाखिल करने को कहा था.

गौरतलब है कि इस मामले का कोर्ट ने आपसी बातचीत से निकलने के लिए पूर्व जज जज एफएमआई कलीफुल्ला की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय मध्यस्थता पैनल का गठन किया था. कोर्ट ने बातचीत से कोई समाधान की संभावना तलाशने के लिए एफएमआई कलीफुल्ला की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय मध्यस्थता पैनल का गठन किया है.

बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट ने इस साल 10 मई को मध्यस्थता पैनल को यह मामला सुलझाने के लिए 15 अगस्त तक का समय दिया था. इस मामले में पांच सदस्यीय संविधान पीठ के समक्ष पेश रिपोर्ट में मध्यस्थता पैनल ने सकारात्मक परिणाम को लेकर आशा जताते हुए कुछ और समय भी मांगा था, जिसकी कोर्ट ने मंजूरी भी दे दी थी. पीठ ने कहा था कि यह मामला कई सालों से चल रहा है, ऐसे में पैनल को और वक्त देने में कोई हर्ज नहीं है.

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com