सीआईसीए सम्मेलन में विदेश मंत्री बोले- आतंकवाद एशिया के लिए सबसे बड़ा खतरा

0
38

पांचवी सीआईसीए सम्मेलन में शुक्रवार को ताजिकिस्तान पहुंचे विदेश मंत्री एस जयशंकर ने आतंकवाद को एशिया के लिए सबसे गंभीर खतरा बताया है। उन्होंने एशियाई बातचीत और विश्वास बहाली के पांचवे सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि आतंकवाद से सीएसआई के देश पीड़ित है।

विदेश मंत्री ने कहा कि आतंकवाद सबसे गंभीर खतरा बन गया है। इसका सामना हम एशिया में सामना कर रहे हैं। सीआईसीए के सदस्य देश भी आतंकवाद से परेशान है।

बता दे कि सीआईसीए एक अखिल एशिया मंच है। जिसके द्वारा एशिया में सहयोग को बढ़ावा देना और और शांति तथा स्थिरता को प्रोत्साहित करने का कार्य किया जाता है। सम्मेलन से पूर्व ताजिकिस्तान के राष्ट्रपति इमोमाली रहमान ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को स्वागत किया।

गौरतलब है कि इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी एससीओ समिट में आतंकवाद को मुद्दा उठाया था और आतंकवाद पर अंार्राष्ट्रीय सम्मेलन का आहवान भी किया था। पीएम मोदी ने समिट के दौरान कहा था कि उन्होंने कहा था कि आतंकवाद के खिलाफ पूरी दुनिया को एकजुट होना होगा। इतना ही नहीं मोदी ने कहा कि आतंकवाद रोज मासूमों की जान ले रहा है। आतंकवाद को पनाह देने वाले देश को जिम्मेदार ठहराना होना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here