Breaking News

ईमानदारी की मिसाल है केरानबाई, रहीं सबसे गरीब विधायक | Example of Honesty is Keranbai, Poorest Legislator

Posted on: 05 May 2019 18:40 by Surbhi Bhawsar
ईमानदारी की मिसाल है केरानबाई, रहीं सबसे गरीब विधायक | Example of Honesty is Keranbai, Poorest Legislator

आज की राजनीति में छोटे से छोटा नेता के पास बड़ी सी गाडी, बड़ा सा घर और ऐशो-आराम की सभी चीजें होती है लेकिन आपसे कोई कहे कि एक विधायक गरीब है तो कभी इस बात विश्वास नहीं करेंगे। आज के समय में वार्ड के पार्षद के पास भी सुख-सुविधा की कोई कमी नहीं होती। ऐसे में विधायक और गरीब, यह दो विरोधाभासी शब्द लगते हैं। हालांकि देश में आज भी एक विधायक ऐसी भी रही है जो नेताओं के लिए मिसाल बनी हुई है। आज हम आपको उसी विधायक के बारे में बताने जा रहे है।

हम बात कर रहे है छत्तीसगढ़ के सारंगगढ़ विधानसभा क्षेत्र की विधायक रही केराबाई मनहर की। भाजपा ने 2019 के विधानसभा चुनाव में केराबाई को यहां से टिकट दिया था. इस दौरान उन्होंने कांग्रेस की उम्मीदवार पद्मा मनहर को 15 हजार से ज्यादा वोटों से मात दी थी. 2018 में भाजपा ने उनपर एक बार फिर भरोसा जताया लेकिन वह जीत पाने में नाकाम रही. बताया जा रहा है कि केरानबाई देश की सबसे गरीब विधायक रही है.

कमाई का नहीं कोई जरिया

केरानबाई के पास कमाई का कोई जरिया नहीं है. विधायक के तौर पर मिलने वाली तनख्वाह ही उनकी आय का साधन था। एक रिपोर्ट की माने तो उनकी सालाना कमाई पांच लाख चालीस हजार रूपये है। उनकी आय राष्ट्रीय स्तर पर औसत आय से कम है। रिपोर्ट में यह भी लिखा है कि केराबाई पांच साल तक विधायक रही। उन्होंने तनख्वाह को ही अपनी पूंजी माना और विधायक पद का कभी भी दुरुपयोग नहीं किया।

बताया जा रहा है कि केराबाई के पिता शिक्षक थे, उनकी जमीन भी है, लेकिन उससे कोई भी आमदनी नहीं होती। उनका पूरा परिवार सारंगढ़ के एक छोटे से गांव में रहता है। उनकी छवि एक ईमानदार नेता के तौर पर जानी जाती है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com