देश को जल्द मिलेगी गर्मी से राहत, अगले 48 घंटें में मानसून दे सकता है दस्तक

0
8

नई दिल्ली : पूरा देश इस वक्त भीषण गर्मी से झुलस रहा है। चिलचिलाती धूप और लू के गर्म थपेड़ों से आमजन प्रभावित है। इसी बीच देशभर के लिए राहत भरी खबर आई है। खबरों की माने तो मानसून अगले 48 घंटों में केरल में दस्तक दे सकता है। हालांकि मौसम विभाग ने इस साल मानसून के कमजोर रहने की बात कही है।

मौसम विज्ञान संबंधी एक संस्था स्काईमेट के मौसम वैज्ञानिक समर चौधरी ने अगले 48 घंटे में मानसून के केरल पंहुचने की उम्मीद जताई है। साथ ही मानसून कमजोर रहने की भी आशंका जाहिर की है। चौधरी के अनुसार दिल्ली और इसके आस-पास तक मानसून जून के आखिरी सप्ताह तक पंहुच सकता है। लेकिन इसमे 10-15 दिनों की देरी भी हो सकती है।

समर चौधरी ने कहा कि पिछले 65 सालों के बाद यह सबसे दूसरा सबसे सूखा सेबसे प्री मानसून है। उन्होने बताया कि प्री-मासून के लिए सामान्य वर्षा 131.5 मिमी रहती है। लेकिन इस बार मात्र 99 मिमी ही बारिश हुई है।

गौरतलब है कि इससे पहले भुनेश्वर मौसम विभाग के निदेशक एचआर विश्वास ने भी मीडिया से हुई बातचीत में बताया था कि मानसून आने में थोड़ी देरी होने का अनुमान जताया था। उन्होने कहा था कि सामान्य रूप से केरल में सबस पहले एक जून तक मानसून दस्तक दे देता है। इस बार केरल में मानसून पहुंचने में पांच-छह दिन की देरी हो सकती है। उम्मीद है कि छह जून तक मानसून केरल पहुंचेगा, हालांकि ये पूरी तरह से मानसून की चाल पर निर्भर करेगा।

इसके अलावा मौसम विभाग ने यह भी आशंका जताई है थी कि इस बार मानसून केरल और ओडिशा में एक साथ आ सकता है। हालांकि, दोनों जगहों पर ही मानसून के पहुंचने में पांच-छह दिन की देरी होने का अनुमान है।

मध्यप्रदेश में पारा 40 के पार-
वहीं गर्मी से फिलहाल आम जन को कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है। मध्यप्रदेश के कई शहरों में तापमान 40 डिग्री के पार पंहुच चुका है। रातधानी भोपाल मे तापमान 43 डिग्री दर्ज किया गया है। वहीं इंदौर में पारा 41 डिग्री तक पंहुच गया है। इसके अलावा खरगोन में 43 डिग्री और जबलपुर एवं ग्वालियर में 44 डिग्री सेल्सियस तक पारा पंहुच गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here