Breaking News

कलरफुल चाय का कांसेप्ट लेकर आ रही हैं: शहर की फाल्गुनी

Posted on: 04 Jun 2018 11:06 by hemlata lovanshi
कलरफुल चाय का कांसेप्ट लेकर आ रही हैं: शहर की फाल्गुनी

इंदौैर: घमासान डॉटकॉम आपको मिलवा रहा है कलरफुल चाय का अनोखा कांसेप्ट लेकर आ रहीं पेंटिंग आर्टिस्ट फाल्गुनी चैतन्य से। इंदौरी चाय की संस्कृति को कला के द्वारा उजागर करने का प्रयत्न कर रही फाल्गुनी चार साल से एनजीओ से भी जुड़ी हुई हैं। फाल्गुनी का मानना है कि अपने लिए तो बहुत कर लिया। अब मुझे कला के प्रचार-प्रसार के साथ ही लोगों की भलाई के लिए काम करना है।falguni 4

शहर के देवी अहिल्याबाई होलकर हवाई अड्डा, जहांगीर आर्ट गैलरी के साथ ही शिमला, मुंबई, नागपुर, खजुराहो सहित कई शहरों में पेंटिंग के ग्रुप और सोलो शो कर चुकी हैं। 8 वें लालिता नेशनल आर्ट कैंप, नागपुर 2017 “सर्वश्रेष्ठ चित्रकारी पुरस्कार” स्पंदन इंटरनेशनल आर्ट एंड क्राफ्ट फेस्टिवल, धर्मशाला (एचपी) 2015 “दत्तात्रय दामोदर देवलालिक पुरस्कार” एम.पी. राज्य रुपकर पुरस्कार प्रधान “खजुराहो 2013 आदि अवार्ड प्राप्त कर चुकी हैं।falguni 3

शहर का फूडी कल्चर है
शहर का फूडी कल्चर है। खास कर लोग चाय ज्यादा ही पंसद करते हैं। केटली पेंटिंग से पेंटिंग आर्ट को लोग समझ सकेंगे। आमतौर पर एल्यु​​मिनियम की सिंपल से केटली में चाय सर्व की जाती है। यदि इसी केटली को पेंटिंग से कलरफुल कर दिया जाए तो पीने और पिलाने वालों को मजा आएगा।

एनजीओ से चार से जुड़ी हूं
मैें चार सालों से लालित्य फाउंडेशन से जुड़ी हूं। असल में कला से जुड़े हुए मुझे काफी टाइम हो गया। मुझे लगा कि अब कला को विस्तार देना चाहिए और लोगों को भी इससे जोड़ना चाहिए। वर्कशॉप आयोजित की जाती है जिसमें सभी लोगों को निशुल्क पेंटिंग सिखाई जाती है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com