Breaking News

एडीजी की ‘बहन’ बनकर रह रही सोनाली शर्मा के केस में सबसे बड़ा खुलासा

Posted on: 07 May 2018 09:30 by Surbhi Bhawsar
एडीजी की ‘बहन’ बनकर रह रही सोनाली शर्मा के केस में सबसे बड़ा खुलासा

इंदौर: यदि आप होटल में बिना आईडी प्रूफ के रूकते है तो पुलिस सीधे केस दर्ज कर लेती है, लेकिन पुलिस मेस में एक लड़की पिछले 10 महीने से बिना किसी आईडी प्रूफ के रह रही है और किसी को कानोकान खबर तक नहीं है। पुलिस मेस में रहने वाली इस लड़की के बारे में पुलिस में पुलिस ने ना तो इसका आईडी प्रूफ मांगा है और ना ही कोई पूछताछ की है।

खुदको एडीजी बहन बताकर यह लड़की पिछले 10 महीनो से इंदौर पुलिस ऑफिसर मेस में रहकर पुलिस को अपने इशारों पर नचा रही थी। इतना ही नहीं यहां उसकी सुरक्षा में गनमैन और गाड़ी भी तैनात थी। लेकिन पुलिस को युवती पर शक होना तो दूर रोज तमाम अफसर उसे सलाम ठोकते रहे।

हम बात कर रहे है सोनाली शर्मा की, जो 10 सालो से पुलिस को बेवकूफ बना रही है लेकिन पुलिस ने इसके बारे में कभी सच्चाई जानने की कोशिश तक नहीं की। सोनाली सिर्फ इंदौर पुलिस मेस में ही नहीं बल्कि भोपाल-उज्जैन समेत कई शहरों में ऑफिसर मेस और अन्य विभागों के गेस्ट हाउस में रुक चुकी है।

एसपी रैंक के अफसरों की गाड़ी का किया इस्तेमाल-

इंदौर पुलिस मेस में रहने के साथ ही सोनाली ने अफसरों की गाड़ी का भी इस्तेमाल किया। सोनाली अफसरों की गाडी में शहरभर में घूमकर अपना रौब जमाती थी। एसपी रैंक के अफसरों को नई गाड़ियां मिलने पर सोनाली के लिए पुरानी एंबेसेडर कार को उपलब्ध कराया गया था।

तंत्र-मंत्र से नेताओ और अफसरों को झांसे में लेती थी –

सोनाली अफसरों और नेताओ को फंसाने के लिए तंत्र-मंत्र और टोने-टोटके का भी सहारा लेती थी। वह खुदको कभी नागकन्या तो कभी काली मां का रूप बताकर अफसरों को फंसाती थी।

बताया जा रहा है कि कुछ साल पहले यह उज्जैन स्थित विक्रांत भैरव मंदिर के पीछे जंगल में और भोपाल के रतीबड़ क्षेत्र में तंत्र-मंत्र का सहारा लेकर लोगों को बेवकूफ बनाती थी। वह रात के अंधेरे का फायदा उठाकर चार हाथ वाली माता बनाकर लोगों को दर्शन देती थी। असल में ये हाथ उसके नहीं बल्कि उसके पीछे खड़ी लड़कियों के होते थे।

इस सोनाली की इस नौटंकी में कई पुलिस अफसर भी उसके पास जाते थे, इसलिए पुलिस ने इस मामले में कोई केस दर्ज नहीं किया।

पहले थी किन्नर, सर्जरी कराकर बनी महिला-

इटारसी में नकली एसडीएम बनकर घूमने के मामले में सोनाली को गिरफ्तार किया था इस दौरान जब उसका मेडिकल करवाया गया तो चौकाने वाली रिपोर्ट सामने आई थी रिपोर्ट में सोनाली की पहचान किन्नर के रूप में हुई थी बाद में कनवर्ट करवाकर वह शी-मेल (महिला) बन गई थी।

गिरफ्तार हुई तो मेडिकल करवाया गया था। तब रिपोर्ट में सोनाली की पहचान एक किन्नर के रूप में हुई थी।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com